हमीरपुर में दो मासूम बच्चियों समेत महिला की जलकर मौत

जिले में भीषण ठंड से बचाव के लिए कमरे में हीटर लगाकर सो रहे परिवार के तीन लोग जलकर खाक हो गए। मृतकों में एक महिला और दो मासूम बच्चियां शामिल हैं। इस करुण हादसे की सूचना पाते ही जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक समेत दमकल की गाड़ी मौके पर पहुंची और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। घटना बुधवार देर रात की है।

प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि हमीरपुर जिले के कुरारा थाना क्षेत्र स्थित जल्ला गांव में हादसा हुआ। प्राप्त जानकारी के अनुसार राजू पाल दिल्ली में मजदूरी करता है। जबकि, उसकी पत्नी अनीता (28) और दो छोटे बच्चे गांव में ही रहते थे। अनीता अपनी पुत्री मोहनी व रोहिणी के साथ सास-ससुर से अलग मकान में रहती थी।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि हीटर के शार्ट सर्किट से आग लगी है, जिसमें महिला और उसके दोनों मासूम बच्चियों की मौत हो गई है। मौके से जला हीटर भी बरामद हुआ है।

भीषण ठंड से बचने के लिए अनीता ने कमरे के अंदर हीटर लगाकर अपने दोनों बच्चियों के साथ विस्तर पर सो गई। देर रात मकान में आग लगने से गांव के लोगों में हड़कंप मच गया। हादसे की सूचना तत्काल पुलिस को दी गई

जिस पर कुरारा थाना के प्रभारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। हमीरपुर से दमकल गाड़ी भी आग बुझाने मौके पर पहुंची, जहां कुछ घंटे बाद आग पर काबू पाया जा सका।

देर रात डीएम डा.सीबी त्रिपाठी और एसपी शुभम पटेल गांव पहुंचे। कमरे के अंदर से पूरी तरह जल चुके महिला और उसके दोनों बच्चों के शवों को पुलिस ने कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है।

एसपी ने बताया कि हीटर के शार्ट सर्किट से आग लगी है, जिसमें महिला और उसके दोनों मासूम बच्चियों की मौत हो गई है। मौके से जला हीटर बरामद हुआ है। शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है और हादसे की जांच कराई जा रही है।

बाहर से कमरे के दरवाजे पर जड़ा था ताला

जल्ला गांव में कमरे के अंदर आग लगने से मां और उसके दो मासूम बच्चियों की जलकर मौत होने के मामले में कई राज सामने आए हैं। पड़ोसी रामऔतार ने बताया कि मृतका अनीता का भाई रामप्रकाश भी पिछले पन्द्रह दिनों से यहीं साथ रहता था।

हादसे के बाद वह अचानक गांव से गायब हो गया है। कमरे से आग और धुआं उठने पर ससुर ब्रम्हादीन और परिवार के अन्य लोगों ने शोर मचाया। गांव के तमाम लोग भी मौके पर एकत्र हो गए।

मृतका के भाई की कराई जा रही तलाश

कुरारा थाने के प्रभारी निरीक्षक पीके पटेल ने पुलिस बल के साथ गांव पहुंचकर हादसे की जांच शुरू कर दी है। परिजनों व पड़ोसियों ने बताया कि मृतका का भाई हादसे के बाद गांव से भाग गया है। वह अनीता के साथ घर में ही कई दिनों से रहता था। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि कमरे का दरवाजा बाहर से बंद था। फिलहाल भाई की तलाश कराई जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!