73वां अंतरराष्ट्रीय शतक बनाकर बोले विराट कोहली- हर मैच को अपने आखिरी मैच की तरह खेलना चाहिए

श्रीलंका के खिलाफ 113 रन की आक्रामक पारी खेलकर भारत की जीत में अहम भूमिका निभाने वाले दिग्गज विराट कोहली ने कहा कि वो हर मैच को उस रवैये के साथ खेलते है जैसे कि यह उनका आखिरी मैच हो.

कोहली की 88 गेंद में 113 रन की पारी के दम पर भारत ने पहले वनडे में छह विकेट पर 373 रन बनाने के बाद श्रीलंका की पारी को आठ विकेट पर 306 रन पर रोक दिया.

वनडे में 45वां शतक पूरा करने वाले कोहली मैन ऑफ द मैच बने कोहली ने कहा, ‘‘एक चीज जो मैंने सीखी वो ये कि हताशा आपको कहीं नहीं ले जाती. आपको चीजों को जटिल बनाने की जरूरत नहीं है.

मैदान में बिना किसी डर के खेलो. मैं चीजों को पकड़ कर नहीं रख सकता. आपको सही कारणों से खेलना होता है और हर मैच को ऐसे खेलना होता है जैसे कि यह आपका आखिरी हो और बस इसके बारे में खुश रहें. खेल आगे बढ़ता रहेगा.

मैं हमेशा के लिए खेलने नहीं जा रहा हूं, मैं एक खुशहाल जगह पर हूं और अपने समय का आनंद ले रहा हूं.’’

भारत के इस पूर्व कप्तान ने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि मैंने अपनी पारी में कुछ अलग किया. मेरी तैयारी और इरादा हमेशा एक जैसा रहता है. मुझे लगा कि मैं गेंद को अच्छे से हिट कर रहा हूं. यह उस लय के करीब था जिसके साथ मैं खेलता हूं, मुझे समझ में आया कि हमें अतिरिक्त 25-30 रनों की जरूरत है.’’

भारतीय कप्तान रोहित शर्मा और शुभमन गिल ने भी अर्धशतक जड़ने के अलावा पहले विकेट के लिए 143 रन जोड़कर भारत के बड़े स्कोर की नींव रखी. रोहित ने कहा कि वो टीम की बल्लेबाजी से संतुष्ट हैं लेकिन गेंदबाजी में सुधार करना होगा.

भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘ हमने बल्ले से अच्छी शुरुआत की. बल्लेबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया. मुझे लगा कि हम बेहतर गेंदबाजी कर सकते थे. मैं ज्यादा आलोचना नहीं करना चाहता क्योंकि परिस्थितियां आसान नहीं थीं. खासकर ओस गिरने के बाद.’’

मैच में नाबाद 108 रन की पारी खेलने वाले शनाका ने कहा, ‘‘उनके सलामी बल्लेबाजों ने टीम को अच्छी शुरुआत दिलायी. हमने नयी गेंद से अच्छी गेंदबाजी नहीं की, उनके गेंदबाज शुरुआत में स्विंग कराने में सफल रहे. हमने भारतीय बल्लेबाजों के खिलाफ योजना बनाई थी लेकिन गेंदबाज चीजों को सही तरीके से नहीं कर पाये.’’

उन्होंने अपनी शतकीय पारी और बल्लेबाजी क्रम में नीचे आने के बारे में पूछे जाने पर कहा, ‘‘मुझे लगता है कि मैं चीजों को सही तरीके से कर रहा हूं. मेरा मानना है कि टी20 में और पहले बल्लेबाजी के लिए आ सकता हूं लेकिन इस फॉर्मेट में छठे क्रम पर ही बल्लेबाजी करनी होगी.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!