मुकेश अंबानी के क्लासमेट थे मोदी, आज अंबानी के मास्टरमाइंड के तौर पर पहचाने जाते है

मुकेश अंबानी के क्लासमेट थे मोदी, आज अंबानी के मास्टरमाइंड के तौर पर पहचाने जाते है

रिलायंस के सर्वसर्व मुकेश अंबानी देश के सबसे अमीर आदमी और दुनिया के सबसे अमीर की लिस्ट में भी शुमार है. मुकेश अंबानी एशिया के सबसे अमीर आदमी हैं. रिलायंस जियो में पिछले 2 साल में हजारों करोड़ रुपए का निवेश किया था. इसमें फेसबुक, सिल्वर लेक, विस्टा इक्विटी पार्टनर्स, जनरल अटलांटिक और केकेआर द्वारा भारी निवेश किया गया था.

19 अप्रैल, 1957 को यमन के एडन में जन्मे मुकेश ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा मुंबई के हिल ग्रेंज हाई स्कूल में प्राप्त की. मुकेश ने केमिकल टेक्नोलॉजी (यूडीसीटी), माटुंगा से केमिकल इंजीनियरिंग में बीई किया है. उन्होंने 1981 में अपने पिता धीरूभाई अंबानी के साथ रिलायंस में काम करना शुरू किया.

पिछले 2 साल देश भर में हर कोई लॉकडाउन से प्रभावित था. हालांकि जियो में 78,562 करोड़ रुपये का निवेश किया गया था. इन सभी सौदों में शामिल शख्स आज मुकेश अंबानी के मास्टरमाइंड के तौर पर जाना जाता है. यह शख्स अंबानी की तमाम बड़ी डील झटपट पूरी कर देता है. यह शख्स मुकेश अंबानी का खास दोस्त भी है. आइए अब जानते हैं मुकेश के चाणक्य मोदी के बारे में.

कौन है यह मोदी?

कोरोना काल में फेसबुक समेत दुनिया की आठ सबसे बड़ी कंपनियों ने जियो प्लेटफॉर्म में निवेश किया. कंपनी ने इस दौरान 97,885 करोड़ रुपये जुटाए थे. इसके बाद जियो के साथ-साथ रिलायंस की ताकत और भी बढ़ गई थी. लेकिन इन सौदों में जितना मुकेश अंबानी का हाथ है, उतना ही उनके दोस्त मोदी का भी है.

मनोज मोदी को मुकेश का दाहिना हाथ कहा जाता है. गुजरात के मनोज मोदी ने 2007 में रिलायंस इंडस्ट्रीज के साथ काम करना शुरू किया था. आज वे हर बड़ी डील में शामिल हैं. मनोज रिलायंस के चाणक्य हैं और रिलायंस के शीर्ष प्रबंधन में शामिल हैं. मनोज मोदी ने अब तक हजीरा पेट्रो-केमिकल्स, जामनगर रिफाइनरी, रिलायंस रिटेल और रिलायंस जियो में काम किया है. उन्होंने मुकेश को कभी निराश नहीं किया.

मुकेश अंबानी हमेशा उनका शुक्रिया अदा करते हैं. मनोज अपने अनुभव के बल पर बड़े-बड़े सौदे आसानी से कर लेते हैं. आज वह मुकेश अंबानी के करीबी और वफादार हैं. दोनों आज अच्छे दोस्त भी हैं.

मनोज मोदी और मुकेश अंबानी जब इंजीनियरिंग में थे तब एक दूसरे के क्लासमेंट थे. इसी बीच दोनों में दोस्ती हो गई. दोनों कॉलेज खत्म करने के बाद संपर्क में थे. इतना बड़ा आदमी होने के बावजूद मुकेश आज भी मनोज मोदी को अपना दोस्त मानते हैं.

हालांकि मनोज मोदी रिलायंस में एक बड़ा नाम हैं, लेकिन वह हमेशा पब्लिसिटी से दूर रहते हैं. उनकी निजी जिंदगी के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं. उन्हें पर्दे के पीछे काम करना पसंद है. मनोज अंबानी ने मुकेश के बच्चों को ट्रेनिंग भी दी है.

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok Mantra अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Dhara Patel

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!