भारत के इन 5 आश्रमों में मिलती है रहने और खाने की Free सुविधा, ट्रिप पर खर्च नहीं होंगे ज्यादा पैसे

मॉनसून के सीजन में ट्रिप पर जाना बहुत ही मजेदार होता है, क्योंकि इस समय ठंडी जलवायु के साथ प्रकृति के खूबसूरत नजारे देखने का अलग ही मजा है। हालांकि शहर से बाहर किसी दूसरी जगह छुट्टियाँ बिताना अक्सर महंगा साबित होता है, क्योंकि व्यक्ति को ठहरने के लिए होटल में रूम बुक करना पड़ता है।

ऐसे में आज हम आपको भारत में स्थित कुछ ऐसी जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं, जहाँ आप घूमने का लुफ्त भी उठा सकते हैं और फ्री में स्टे भी कर सकते हैं। यह भारत के कुछ लोकप्रिय आश्रम हैं, जहाँ पर्यटकों को मुफ्त में ठहरने के साथ-साथ भोजन की सुविधा भी मुहैया करवाई जाती है।

परमार्थ निकेतन आश्रम

उत्तराखंड में स्थित ऋषिकेश घूमने के लिहाज से बहुत ही खूबसूरत जगह है, जहाँ पूरे साल भर पर्यटकों और श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रहती है। ऐसे में अगर आप इस जगह पर फ्री में ठहरने और भोजन का लुफ्त उठाना चाहते हैं तो आपको परमार्थ निकेतन आश्रम का रूख करना चाहिए।

ऋषिकेश में लक्ष्मण झूले के पास स्थित इस आश्रम में 1 हजार से ज्यादा कमरे हैं, जहाँ एक समय पर कई लोगों के ठहरने की व्यवस्था की जाती है। इतना ही नहीं इस आश्रम में एक लाइब्रेरी भी मौजूद है, जबकि यहाँ गेस्ट को फ्री में शुद्ध शाकाहारी भोजन भी परोसा जाता है।

ईशा फाउंडेशन आश्रम 

तमिलनाडु के कोयंबटूर शहर में भगवान शिव की एक विशालकाय प्रतिमा स्थित है, जिसे अर्धयोगी शिवा के नाम से जाना जाता है। इस मूर्ति को ईशा फाउंडेशन द्वारा स्थापित किया गया था.

जो प्रतिमा के ठीक पास एक आश्रम भी चलाता है। इस आश्रम में स्वयंसेवी कार्यक्रमों में हिस्सा लेने वाले लोगों को फ्री में रहने की सुविधा दी जाती है, जिसकी वजह से कोयंबटूर का ट्रिप सस्ते में पूरा हो जाता है।

आनंदाश्रम 

केरल में हर साल सैकड़ों लोग छुट्टियाँ बिताने के लिए जाते हैं, जहाँ प्राकृतिक सुंदरता को देखने का अलग मजा है। ऐसे में अगर आप केरल में छुट्टियाँ बिताने का प्लान कर रहे हैं, तो आपको आनंदाश्रम से संपर्क करना चाहिए। इस आश्रम में गेस्ट को फ्री स्टे के साथ मुफ्त भोजन की सुविधा भी दी जाती है।

भारत हेरिटेज सर्विसेज 

ऋषिकेश में स्थित इस आश्रम में ठहरने वाले लोगों को स्वयंसेवी कार्यक्रम में हिस्सा लेना पड़ता है, जिसमें कमरे की साफ सफाई और गार्डन को साफ करने जैसे काम शामिल होते हैं। इस आश्रम में स्वदेशियों के साथ-साथ विदेशी पर्यटक भी ठहरते हैं, जहाँ रहने और खाने के लिए कोई पैसा नहीं लिया जाता है।

श्री रामनाश्रामम, तिरुवन्नामलई 

तमिनाडु में स्थित श्री रामनाश्रमम को श्रद्धालुओं के ठहरने के लिए बनाया गया है, जो शोर शराबे से दूर पहाड़ियों के बीच मौजूद है। इस आश्रम में ठहरने के लिए कम से कम 6 हफ्ते पहले बुकिंग करवानी पड़ती है, जहाँ फ्री स्टे के साथ तीनों टाइम शुद्ध शाकाहारी भोजन परोसा जाता है।

तो ये थे भारत में स्थित आश्रम, जहाँ आप फ्री में ठहर सकते हैं और स्वादिष्ट शाकाहारी भोजन का लुफ्त उठा सकते हैं। ऐसे में अगर आप कभी इन शहरों में जाए, तो महंगे होटल में रूम बुक करने के बजाय यहाँ ठहर सकते हैं।

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok Mantra अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!