बेंगलुरु पहुंची टीम योगी को मिली बड़ी कामयाबी, इतने करोड़ का साइन हुआ MOU

उत्तर प्रदेश को नए भारत का ग्रोथ इंजन बनने और राज्य में 17 लाख करोड़ के निवेश को आकर्षित करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दिशा निर्देश में टीम यूपी देशभर का दौरा कर रही है। 10 से 12 फरवरी तक लखनऊ में आयोजित होने जा रहे उत्तर प्रदेश ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के लिए 9 शहरों में रोड शो इवेंट का आयोजन किया जा रहा है। इसी क्रम में सोमवार को टीम योगी ने बेंगलुरु में रोड शो इवेंट किया। बेंगलुरु में टीम योगी ने 33 उद्यमियों के साथ 25 हजार करोड़ के निवेश के लिए एमओयू पर साइन किया।

मुख्यमंत्री ने निवेशकों को दिया न्योता

रोड शो इवेंट में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का वीडियो संदेश प्रसारित किया गया। योगी आदित्यनाथ ने संदेश में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व में भारत निवेशकों की पसंदीदा जगह बन गई है। पीएम के नेतृत्व में राजनैतिक स्थायित्व और गुड गवर्नेंस के नए दौर का सृजन हुआ है। प्राकृतिक संसाधनों से समृद्ध यूपी गुड गवर्नेंस, अपराध और भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टालरेंस, सबसे बड़े उपभोक्ता बाजार, सिंगल विंडो पोर्टल निवेश मित्र, निवेश फ्रेंडली नीतियों के साथ ईज आफ डूइंग में अग्रणी राज्य है। यूपी हर लिहाज से निवेश के लिए सर्वोत्तम जगह है। यूपी देश की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की तरफ अग्रसर है। पीएम के संकल्प के अनुरूप यूपी भारत की इकोनॉमिक ग्रोथ को गति देने के लिए तैयार है।

उत्तर प्रदेश में अगले 25 साल तक भाजपा कि सरकार रहेगी

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या ने रोड शो इवेंट के दौरान उद्यमियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि यूपी में निवेश का ये सबसे अच्छा अवसर है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में अगले 25 साल तक भाजपा कि सरकार रहेगी। कानून व्यवस्था के मामले में यूपी आज दंगा मुक्त और अपराध मुक्त प्रदेश है। पर्यटन, कृषि, डिफेन्स, लॉजिस्टिक्स, इंफ्रास्ट्रक्चर, रियल इस्टेट, हेल्थ, आईटी सेक्टर में निवेश करने का ये सबसे अनुकूल समय है। उत्तर प्रदेश को भारत का ग्रोथ इंजन बनाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार मेहनत कर रहे हैं।

लखनऊ में होने जा रहा अबतक का सबसे बड़ा इन्वेस्टर्स समिट

कैबिनेट मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने निवेशकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि यूपी इस साल देश का सबसे बड़ा इन्वेस्टर्स समिट करने जा रहा है। कर्नाटक और उत्तर प्रदेश का सम्बन्ध सदियों पुराना है। राम, कृष्ण और काशी विश्वनाथ कि भूमि आज विकास के नये युग में प्रवेश कर रही है। यूपी कि इस विकास यात्रा के साथ कर्नाटक के उद्यमियों को जुड़ना चाहिए। इस साल ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के जरिये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 17 लाख करोड़ के निवेश का लक्ष्य रखा है, जिसमें से लगभग 15 लाख करोड़ के एमओयू साइन हो चुके हैं।

यूपी में करें निवेश जो भी सुविधा चाहिए उसकी गारंटी हमारी

कार्यक्रम के दौरान प्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने निवेशकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि यूपी में निवेश के लिए आपको जो भी सुविधाएं चाहिए, उत्तर प्रदेश उसकी गारंटी लेता है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को 5 ट्रिलियन डॉलर कि अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य रखा है, जिसमें उत्तर प्रदेश से वन ट्रिलियन डॉलर का योगदान देने का संकल्प मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लिया है।

यूपी में इंफ्रास्ट्रक्चर विकास की रफ्तार चीन से भी तेज

रोड शो इवेंट के दौरान वीडियो फ़िल्म के जरिये यूपी में निवेश के अवसरों कि जानकारी उद्यमियों को दी गई। इंफ्रास्ट्रक्चर एवं इंडस्ट्रियल डेवलपमेन्ट कमिश्नर अरविन्द कुमार ने प्रेजेंटेशन के जरिये उत्तर प्रदेश में निवेश के अवसरों और फायदों को गिनाया। एमकेयू लिमिटेड के चेयरमैन मनोज गुप्ता और फिक्की कर्नाटक के चेयरमैन के उल्लास कामथ ने उत्तर प्रदेश में निवेश को लेकर अपने अनुभव साझा किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!