दुखी था 90 साल का चना बेचने वाला, श्रीनगर SSP ने फिर जो किया उसने लोगों का दिल जीत लिया

हम अक्सर ऐसी खबरें सुनते हैं जहां कोई अधिकारी घूस लेता हुआ पकड़ा जाता है या फिर किसी भ्रष्टाचार के कार्य में लिप्त होता है। लेकिन हर कोई एक जैसा नहीं होता है। समुद्र में कुछ गंदी मछलियाँ होती है तो कुछ अच्छी भी रहती हैं। ऐसे में आज हम आपको एक ऐसे एसएसपी (SSP) की कहानी सुनने जा रहे हैं जिसने एक गरीब की मदद कर लोगों का दिल जीत लिया।

सोशल मीडिया पर छाए श्रीनगर के SSP

दरअसल इन दिनों सोशल मीडिया पर श्रीनगर के एसएसपी  की एक स्टोरी बड़ी वायरल हो रही है। इस एसएसपी का नाम संदीप चौधरी है। एसएसपी संदीप ने श्रीनगर के चने बेचने वाले एक 90 साल के बुजुर्ग के लिए कुछ ऐसा खास काम किया है कि वह इस समय सोशल मीडिया पर छाए हुए हैं। लोगों उनकी तारीफ करते नहीं थक रहे हैं।

यहां तक कि श्रीनगर के मेयर परवेज अहमद कादरी ने भी एक पोस्ट के माध्यम से एसएसपी संदीप चौधरी की तारीफ की है। अब आप भी सोच रहे होंगे कि भाई इस एसएसपी ने ऐसा भी क्या कर दिया? तो चलिए जानते हैं।

90 साल के एक बुजुर्ग के घर हुई चोरी

श्रीनगर के मेयर परवेज अहमद कादरी ने अपनी ट्वीटर पोस्ट में बताया कि चना बेचने वाले 90 साल के एक बुजुर्ग के घर कुछ दिनों पहले चोरी हो गई थी। बुजुर्ग ने अपने अंतिम संस्कार के लिए कुछ पैसे जोड़कर रखे थे। लेकिन चोर उसे लूटकर ले गए। इस बात से बुजुर्ग बड़ा दुखी था। जब इस बात की भनक एसएसपी संदीप चौधरी को लगी तो उन्होंने श्रीनगर पुलिस के साथ मिलकर बुजुर्ग के लिए कुछ खास किया।

चना वाले को दिए 1 लाख रुपए

श्रीनगर पुलिस और एसएसपी संदीप चौधरी ने उस बुजुर्ग और दुखी चने वाले के चेहरे पर मुस्कान लाने के लिए उसे एक लाख रुपए की मदद की। इस मदद को पाकर बुजुर्ग बड़ा खुश हुआ। उसने सभी को आशीर्वाद दिया। अब यह पूरी घटना सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है और लोग एसएसपी संदीप की तारीफ में बहुत कुछ कह रहे हैं।

पोस्ट के वायरल होते ही एक यूजर ने कमेंट किया ” बहुत ही शानदार काम”। वहीं दूसरे यूजर ने लिखा “संदीप चौधरी और उनकी टीम तारीफ के काबिल हैं। उन्होंने बड़ा ही नेक काम किया है।” फिर एक शख्स कहता है “हमारे देश को ऐसे ही अधिकारियों की जरूरत है।” वहीं कुछ लोगों ने तो एसएसपी को आईलवयू तक कह दिया। इसके अलावा बहुत से लोग उस बुजुर्ग की मदद को आगे भी आए।

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok Mantra अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!