मौत की अनसुलझी मिस्ट्री को सॉल्व करने में जुटी 2 राज्यों की पुलिस, कब्र खोदकर निकाला शव और फिर…

सिमडेगा जिले में युवक के मौत के तीन महीने बाद हत्या की आशंका पर सिमडेगा पुलिस ने छत्तीसगढ़ पुलिस के साथ मिलकर एक युवक के कब्र को खुदवाकर शव निकालकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा.

लेकिन शव पुराना होने के कारण सिमडेगा सदर अस्पताल ने पोस्टमार्टम करने से इंकार कर दिया. अंत में थक हार कर भाजपा नेता संजय शर्मा के सहयोग से शव को फोरेंसिक लैब रिम्स भेजा गया. जानकारी के अनुसार कुरडेग थाना क्षेत्र के डुमरडीह निवासी युवक की संदेहास्पद स्थिति में तीन महीने पहले मौत हो गयी थी.

बताया गया कि कुरडेग के डुमरडीह निवासी फलेश्वर तीन माह पूर्व छतीसगढ जशपुर जिला के कुनकुरी में अपनी ससुराल गया था. जहां किसी बीमारी के कारण उसकी मृत्यु हो गई थी लेकिन बाद में मृतक के परिजनों को पता चला कि छत्तीसगढ़ में कुछ लोगों ने मृतक फलेश्वर के साथ मारपीट की थी. जिससे उसकी मृत्यु हो गई थी. तब उन्होंने छत्तीसगढ़ के कुनकुरी पुलिस को सूचना देते हुए मामला दर्ज कराया.

मामले की तहकीकात करते हुए कुनकुरी पुलिस ने कुरडेग पुलिस के सहयोग से डुमरडीह पंहुचकर फलेश्वर के कब्र को खुदवाकर शव को बाहर निकलवाया और पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल सिमडेगा भेजा. भाजपा के संजय शर्मा शव का पोस्टमार्टम कराने के लिए दिन भर परिजनों के साथ परेशान रहे.

मामले में कुरडेग थाना प्रभारी मुन्ना रमानी ने बताया कि मामला छत्तीसगढ़ में दर्ज किया गया है. इसलिए पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर अग्रतर कार्रवाई वहीं की पुलिस करेगी. मृतक कुरडेग थाना क्षेत्र का है इसलिए कुरडेग पुलिस कार्रवाई में हर संभव मदद करेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!