क्या किलो के भाव मे बिकते हे नोट- कितने भी ख़रीद सकते हैं

क्या किलो के भाव मे बिकते हे नोट- कितने भी ख़रीद सकते हैं

दुनिया में हर चीज़ पैसों से खरीदी जाती है। कुछ लोग पैसे के लिए मेहनत मजदूरी करते हैं, तो कुछ लोग गलत तरीके से पैसे पाने के लिए अपराध तक कर बैठते हैं। पैसा एक ऐसी चीज़ है। जिसे हर कोई पाना चाहता है। कुछ लोगों को अपना परिवार चलाने के लिए पैसे की ज़रूरत पड़ती है, तो कुछ लोगों को अपने ऐश-ओ-आराम के लिए। लेकिन दुनिया में एक ऐसी जगह भी है। जहां पैसे के लिए न कोई अपराध होता है और न कोई पैसे के पीछे भागता है। सीधे सरल शब्‍दों में कहा जाए तो यहां पैसे का कोई मोल ही नहीं है।

यह है दुनिया का सबसे अनोखा देश जहां लगता है पैसों का बाज़ार 

अफ्रीका देश, सोमालीलैंड दुनिया का इकलौता ऐसा देश है, जहां के लोग पैसों के पीछे नहीं भागते हैं और न ही उन्‍हें पैसों की कोई परेशानी है। इस देश में पैसों का बाज़ार लगता है। यहां जो चाहे वो बहुत ही कम दाम में पैसे खरीद सकता है। इस देश की मुद्रा का नाम है सोमालीलैंड शिलिंग। यहां पर दस अमेरिकी डॉलर के बदले 50 किलो सोमालियन मुद्रा के नोट खरीदे जा सकते हैं। यह ऐसा देश है जहां पर चारों तरफ पैसा ही पैसा दिखाई देता है। साथ ही यहां की खास बात यह है कि इस देश में चारों ओर पैसे ही पैसे होने के बावजूद भी यहां पैसों की सुरक्षा के लिए एक भी सुरक्षाकर्मी नहीं है। क्‍योंकि यह देश बहुत ही सुरक्षित है। किसी को भी अपने पैसों की सुरक्षा नहीं करनी पड़ती है। सबके पैसे जहां रखे होते हैं, वहीं सुरक्षित रहते हैं।

इस वजह से इस देश में लगता है पैसों का बाज़ार 

दरअसल सोमालीलैंड के लोगों को यह प्रतीत होता है कि उनकी मुद्रा किसी भी समय गायब हो सकती है। इसलिए वह अपने कमाए हुए पैसों को गायब होने की बजाए कम दामों बेचकर उन्‍हें व्‍यर्थ होने से बचा लेते हैं। ऐसा उन्‍हें लगता है। लेकिन आपको भारत में इसे आजमाने की कतई जरूरत नहीं है

यहाँ पर पैसों का ही बाजार लगता है। यहां पर कोई भी व्यक्ति कम दाम में पैसे खरीद सकता है। वहीं इस देश की मुद्रा का नाम है सोमालीलैंड शिलिंग।

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok Mantra अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Dhara Patel

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!