IPS का ट्वीट VIRAL, दिखाया- ‘पुष्पा’ झुकेगा भी, धरा भी जाएगा

अल्लू अर्जुन की फिल्म ‘पुष्पा: द राइज’ का खुमार चारों तरफ बरकरार है.फिल्म की रिलीज को महीना भर से अधिक हो चुका है.लेकिन भैया, अब भी पब्लिक फिल्म के गीत,हुक स्टेप्स और डायलॉग्स की दीवानी है.इतना ही नहीं,हाल ही पुलिस के हत्थे एक ऐसा बंदा चढ़ा,जो इस फिल्म से इंस्पायर होकर लाल चंदन की तस्करी कर रहा था.जी हां,इस मामले को ट्विटर पर साझा करते हुए एक आईएफएस अधिकारी ने लिखा -असल जिंदगी में पुष्पा बनने की हिम्मत भी मत करना.क्योंकि फॉरेस्टर कभी झुकेगा नहीं.

गुरुवार को ट्विटर पर IFS देबाशीष शर्मा ने एक तस्वीर शेयर करते हुए लिखा,ब्लॉकबस्टर मूवी हमेशा सकारात्मक समाजिक संदेश नहीं देती.आनंद लें और भूल जाएं.असल जिंदगी में पुष्पा बनने की हिम्मत भी ना करें.वन विभाग (फॉरेस्ट डिपार्टमेंट) द्वारा एक टन से अधिक लाल चंदन जब्त की गई.क्योंकि फॉरेस्टर कभी झुकेगा नहीं.

रिपोर्ट्स के अनुसार, बेंगलुरु में एक शख्स ने ‘पुष्पा’ फिल्म से प्रेरित होकर 2.45 करोड़ रुपये की लाल चंदन की तस्करी का प्रयास किया। हालांकि, पुलिस ने उसे धर दबोचा.बताया गया कि यासीन इनायथुल्ला नाम का ये शख्स कर्नाटक-आंध्र सीमा से महाराष्ट्र जाने वाले रास्ते पर लाल चंदन से भरे ट्रक के साथ पकड़ा गया.दरअसल, जैसे ही उसने सीमा पार करने की कोशिश की उसको महाराष्ट्र पुलिस ने सांगली जिले में दबोच लिया.

स्मगलर यासीन ने बड़ी चलाकी से पहले ट्रक में लाल चंदन की लकड़ी रखी और फिर उसके ऊपर फल और सब्जी के डिब्बे लाद दिए.ताकि पुलिस को शक ना हो.लेकिन वह शायद भूल गया था कि फिल्मी दुनिया और हकीकत में अंतर होता है.सांगली पुलिस अधीक्षक दीक्षित गेदाम ने बताया, ‘हमें चंदन की तस्करी की गुप्त सूचना मिली थी,जिसके बाद हमने वन अधिकारियों के साथ एक संयुक्त अभियान को अंजाम दिया.

इस मामले पर सैकड़ों यूजर्स ने प्रतिक्रिया दी.एक ने लिखा कि वे संदेश देने के लिए नहीं, बॉक्स ऑफिस के लिए फिल्म करते हैं.जबकि अन्य ने पूछा कि जब्त लकड़ी का क्या हुआ,तो आईएफएस ने बताया कि राज्य सरकार ने जब्त रेड सैंडर्स को ग्लोबल टेंडर के जरिए नीलाम कर दिया.जबकि एक शख्स ने मजाकिया अंदाज में लिखा कि तस्कर भूल गया था कि पुलिस ने भी यह फिल्म देखी है.आईएफएस देबाशीष के ट्वीट को अबतक 1200 से अधिक लाइक्स और 122 रीट्वीट्स मिल चुके हैं.

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok Mantra अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!