कप्तान रोहित शर्मा ने इन खिलाड़ियों के सिर बांधा जीत का सेहरा, बताया तीनों फॉर्मेट का शानदार प्लेयर

भारत ने बुधवार को हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए पहले वनडे में न्यूजीलैंड को रोमांचक अंदाज में 12 रन से हरा दिया. मेजबान टीम ने टॉस जीतकर शुभमन गिल के पहले दोहरे शतक की बदौलत 8 विकेट पर 349 रन का स्कोर बनाया और फिर कीवी टीम को 49.2 ओवर में 337 रन पर ऑलआउट कर दिया.

कप्तान रोहित शर्मा ने इस रोमांचक जीत का श्रेय पूरी टीम को दिया है.

उन्होंने मैच के बाद कहा, ” ईमानदारी से कहूं तो, जिस तरह से वह बल्लेबाजी कर रहे थे और जिस तरह से यह अच्छी तरह से बल्ले पर आया, यह क्लीन बॉल स्ट्राइकिंग थी. हम जानते थे कि अगर हम अच्छी गेंदबाजी करते हैं

तो हम तब तक ठीक रहेंगे जब तक कि हम वास्तव में गेंद से फिसले नहीं. दुर्भाग्य से ऐसा ही हुआ. मैंने टॉस में कहा था कि मैं खुद को चुनौती देना चाहता हूं. यह वैसी स्थिति नहीं थी जिसकी मुझे उम्मीद थी लेकिन ऐसा होता है.”

गिल ने 149 गेंदों पर 19 चौके और 9 छक्कों की मदद से 139.60 के स्ट्राइक रेट से अपना दोहरा शतक लगाया. गिल की 208 रन की पारी हैदराबाद के राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में वनडे में किसी बल्लेबाज का अब तक का सर्वोच्च व्यक्तिगत पारी है. इससे पहले इस मैदान पर वनडे में सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर सचिन तेंदुलकर के नाम था.

न्यूजीलैंड ने एक समय 131 रन तक अपने छह विकेट गंवा दिए थे. लेकिन इसके बाद माइकल ब्रेसवेल ने मिचेल सेंटनर के साथ सातवें विकेट के लिए 102 गेंदों पर 162 रन की साझेदारी करके न्यूजीलैंड को जीत की दहलीज तक पहुंचा दिया था.

कीवी टीम को अंतिम ओवर में जीत के लिए 20 रन बनाने थे, लेकिन शार्दुल ने ब्रेसवेल को पगबाधा आउट करते भारत को 12 रन से जीत दिला दी.

रोहित ने आगे कहा, ” वह वास्तव में अच्छा कर रहे हैं. वह जिस फॉर्म में हैं, हम उसका फायदा उठाना चाहते थे और इसलिए हमने श्रीलंका सीरीज में उसका समर्थन किया. सिराज सिर्फ इस मैच में ही नहीं बल्कि रेड-बॉल, टी20 फॉर्मेट और अब वनडे में भी शानदार कर रहे हैं.

वह जो करना चाहता है उस पर अमल कर रहा है और वह अपनी योजनाओं को लेकर बहुत स्पष्ट है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!