रवींद्र जडेजा बने नए कप्तान, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज से पहले स्टार ऑलराउंडर की तगड़ी वापसी

भारतीय टीम के स्टार ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा लंबे समय से क्रिकेट से दूर हैं। ये खिलाड़ी अपनी चोट के चलते टी20 वर्ल्ड कप 2022 से भी बाहर हो गया था। इसके अलावा जडेजा इस साल अभी तक टीम इंडिया के लिए एक भी मुकाबला नहीं खेल पाए हैं। फैंस जडेजा को मैदान पर वापस देखने के लिए बेताब हैं। इसी बीच ये खिलाड़ी एक बार फिर मैदान पर वापसी के लिए एकदम तैयार है और वो भी एक कप्तान के तौर पर।

जडेजा की मैदान पर वापसी

भारतीय ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा मंगलवार से चेन्नई में तमिलनाडु के खिलाफ होने वाले सौराष्ट्र के अंतिम रणजी ट्रॉफी लीग मुकाबले में टीम की कप्तानी करेंगे। इस मैच के साथ लगभग 6 महीने बाद उनकी प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में वापसी होगी। सौराष्ट्र की टीम नॉकआउट चरण के लिए क्वालीफाई करने की दहलीज पर है लेकिन अगले महीने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली चार टेस्ट की सीरीज से पहले सभी की नजरें जडेजा की वापसी पर टिकी होंगी। यह चार दिवसीय मुकाबला जडेजा के लिए फिटनेस परीक्षण की तरह होगा और अगर मैच की पूर्व संध्या पर नेट सत्र को संकेत माना जाए तो इस 34 वर्षीय खिलाड़ी के इसमें आसानी से सफल होने की उम्मीद है।

जडेजा का फिटनेस टेस्ट

फिटनेस से जुड़े सभी मानकों को परखने वाला जीपीएस ट्रैकर पहनकर जडेजा ने 30 मिनट तक बाएं हाथ से स्पिन गेंदबाजी की और फिर लगभग इतना ही समय बल्ले के साथ बिताया। जडेजा की प्रगति पर नजर रखने के लिए राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) का एक ट्रेनर भी चेन्नई में मौजूद है। अगस्त में एशिया कप में अपना पिछला प्रतिस्पर्धी मुकाबला खेलने के बाद जडेजा का घुटने का ऑपरेशन हुआ था। सौराष्ट्र के कोच नीरज ओडेड्रा ने पीटीआई को बताया कि टीम के साथ अपने पहले ट्रेनिंग सत्र के दौरान जडेजा ऊर्जा से भरे हुए थे। नीरज ने कहा, ‘‘वह काफी ऊर्जावान थे और यह आज नेट में नजर आया। वह और लंबे सत्र में हिस्सा लेना चाहते थे लेकिन वह चोट के बाद वापसी कर रहे हैं इसलिए महत्वपूर्ण है कि वह जरूरत से ज्यादा प्रयास नहीं करें।’’

उनादकट की जगह कप्तानी करेंगे जडेजा

कोच ने कहा, ‘‘इस मैच के लिए जयदेव उनादकट को आराम दिया गया है इसलिए हमने उनसे पूछा कि क्या वो टीम की अगुआई कर सकते हैं और वह खुशी से तैयार हो गए हैं। वह सौराष्ट्र की ओर से खेलने में काफी गर्व महसूस करते हैं और चाहता हैं कि टीम में शामिल सभी खिलाड़ी ऐसा महसूस करें।’’

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ महत्वपूर्ण सीरीज से पहले उनादकट की तरह चेतेश्वर पुजारा को भी कार्यभार प्रबंधन के तहत इस मैच से आराम दिया गया है। भारत को विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में क्वालीफाई करने के लिए यह सीरीज हर हाल में जीतनी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!