जले हुए शवों में गाजीपुर के 4 मृतकों की पहचान करने में परिजन विफल

नेपाल में एक विमान दुर्घटना में मारे गए गाजीपुर के चार युवकों के परिजन शवों की पहचान करने में विफल रहे. यह जानकारी अधिकारियों ने दी. चारों युवाओं के परिजन मंगलवार को पार्थिव शरीर लेने के लिए काठमांडू पहुंचे थे. गाजीपुर जिले के अधिकारियों ने कहा कि अब शोक संतप्त परिजन शनिवार को शवों की पहचान करने का दूसरा प्रयास करेंगे.

मृतक अभिषेक कुशवाहा के बड़े भाई अभिनेश कुशवाहा ने बताया, हमें कम से कम 25 जले हुए शव दिखाए गए, लेकिन हम अभिषेक की पहचान नहीं कर पाए. एक बार शिनाख्त की प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद शवों को सौंपने से पहले डीएनए परीक्षण किया जाएगा.

हालांकि नेपाल सरकार को अभी यह तय करना है कि प्रोटोकॉल के मुताबिक शव सीधे परिजनों को सौंपे जाएंगे, या भारत भेजे जाएंगे.

15 जनवरी को पोखरा में दुर्घटनाग्रस्त हुए यति एयरलाइंस के एटीआर 72 विमान में गाजीपुर के चार और बिहार के एक शख्स सहित पांच भारतीय सवार थे. जया सिंह, तहसीलदार, कासिमाबाद , गाजीपुर ने कहा

पांच शोक संतप्त परिवारों में से प्रत्येक से एक व्यक्ति, एक नायब तहसीलदार और एक पुलिस कांस्टेबल के साथ शवों की पहचान के लिए काठमांडू गए हैं. हादसे में गाजीपुर के सोनू जायसवाल, अभिषेक कुशवाहा, विशाल शर्मा, और अनिल कुमार राजभर की मौत हो गई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!