अद्भुत है इस मंदिर की लीला, साल में सिर्फ एक ही बार खोले जाते है द्वार

भारत देश मे कई देवी-देवताओ के मंदिर है, हर मंदिर की अपनी अलग ही पहचान ओर कुछ रहस्यमय राज अपने आप मे समाये रखे है. भारत में ऐसे बहुत से चमत्कारी और अद्भुत मंदिर हैं, जिसके बारे में आज तक बहुत से व्यक्ति जानते नहीं है. भारत मे एक मंदिर ऐसा है जिसके बारे मे आप जानकर आप थोड़े हैरान तो होंगे लेकिन सच्चाई जान कर आपको यकीन भी हो जाएगा.

यह चमत्कारी मंदिर भारत ही नहीं पूरे देश मे मशहूर है. इस मंदिर मे लोग दूर-दूर से दर्शन करने आते हैं, लेकिन इस मंदिर का एक राज भी है जो हैरान करने वाला है. यह मंदिर साल में सिर्फ एक बार ही खुलता है.

भारत के इस अद्भुत मंदिर के द्वार सिर्फ साल में एक ही बार खुलते है, वह भी सिर्फ नागपंचमी के दिन. कई व्यक्तियों के मन मे प्रश्न आता है की आखिर इस मंदिर में ऐसी क्या मान्यता है, जो साल बंद रहता है और सिर्फ नागपंचमी के दिन ही इसके द्वारा खोले जाते है.

हिंदू धर्म में नागों की पूजा करने की विशाल ओर प्राचीन परंपरा है. भारत देश में नागों के अनेक मंदिर है, इनहि में से एक मंदिर है स्थित है उज्जैन मे जिसे नागचंद्रेश्वर मंदिर कहा जाता है, जो महाकाल की नगरी उज्जैन में है.

मान्यता के अनुसार कहा जाता है की नागराज दक्षिण स्वयं इस मंदिर में निवास करते थे. यह मंदिर काफी प्रचलित है. वर्ष मे सिर्फ एक बार मंदिर के पट खुलने की वजह से नागपंचमी के दिन दर्शन के लिए यहा बहुत ज्यादा भीड़ लगती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!