लकड़ी से चलने वाला ‘धुंआ रहित चूल्हा’, कम ईंधन खर्च में खाना भी पकेगा और धुंआ भी नहीं उगलेगा

लकड़ी से चलने वाला ‘धुंआ रहित चूल्हा’, कम ईंधन खर्च में खाना भी पकेगा और धुंआ भी नहीं उगलेगा

इन दिनों रसोई गैस की कीमतें आसमान छू रही हैं, वहीं दूसरी तरफ सर्दी का मौसम होने की वजह से खाना देरी से पकता है। ऐसे में आम आदमी को मौसम के साथ-साथ महंगाई का मार भी सहन करनी पड़ रही है, लेकिन अगर आप चाहे तो इस समस्या का हल तलाश कर सकते हैं।

आज हम आपको एक ऐसा शानदार चूल्हा बनाने की प्रक्रिया बताने वाले हैं, जिससे रसोई गैस की बचत के साथ-साथ सर्दी की मार से भी बचा सकता है। इस चूल्हे के घर के अंदर आसानी से जलाया जा सकता है, क्योंकि इससे बिल्कुल भी धुंआ नहीं होता है। हम इसे बनाने का एक वीडियो भी शेयर कर रहे हैं ताकि आपको इसे बनाने में आसानी हो।

धुंआ रहित चूल्हा बनाने की विधि

आज तक आपने मिट्टी से बने विभिन्न प्रकार के चूल्हे देखे होंगे, जिनमें पुराने जमाने में खाना पकाया जाता था। लेकिन अब हर किसी की लाइफ मॉडन हो चुकी है, इसलिए इस लाइफ स्टाइल से मैच करने वाले शानदार लकड़ी का चूल्हा होना भी बेहद जरूरी है।

ऐसे में आप घर पर ही सीमेंट और ईंटों के इस्तेमाल से एक शानदार चूल्हा तैयार कर सकते हैं, जिससे ईंधन की बचत होने के साथ-साथ आग सेंकने का लुफ्त भी उठाया जा सकता है। तो आइए जानते हैं कैसे बनेगा धुंआ रहित चूल्हा और उसके लिए क्या-क्या सामग्री चाहिए होगी।

चूल्हा बनाने के लिए जरूर सामान

इस धुंआ रहित चूल्हा को तैयार करने के लिए पॉलीथिन की एक बड़ी शीट की जरूरत पड़ेगी, इसके अलावा चूल्हा बनाने के लिए बालू, सीमेंट और ईंट भी चाहिए। चूल्हे को मजबूती प्रदान करने के लिए लकड़ी और लोहे से बनी 16 छड़ी, 4 पहिए, कढ़नी और एक छोटी बाल्टी की भी जरूरत पड़ेगी।

धुंआ रहित चूल्हा बनाने का तरीका

 

इस चूल्हे को बनाने के लिए सबसे पहले फर्श पर पॉलीथीन की शीट बिछा लें और फिर उस शीट के ऊपर बालू व सीमेंट से तैयार लेप को गोल आकृति में फैला दें। इस दौरान आपको ध्यान रखना होगा कि गोल आकार वाली प्लेट का मुंह एक तरह से खुला छोड़ना है, ताकि उसके अंदर लकड़ियाँ जलाने के लिए जगह बनाई जा सके।

इसके बाद उस सीमेंट के लेप के ऊपर 4 लकड़ी की छड़ी को चौकार आकृति में बिछा दें और फिर उसके ऊपर दोबारा से सीमेंट का लेप फैला कर एक बड़ी गोल प्लेट तैयार कर लें। यह आकृति हर तरफ से गोल बनेगी, जबकि सामने से इसका डिजाइन चौकोर होगा।

वीडियो देख धुंआ रहित चूल्हा बनाने की पूरी प्रक्रिया सीखें

इस गोल प्लेट के बीचों बीच 4 पहिए लगा दें और उन्हें पेंच की मदद से अच्छी तरह से कस दें, इसके बाद सीमेंट से तैयार आकृति को धूप में अच्छी तरह से सूखने दें और फिर शीट से अलग करके पहियों पर खड़ा दें, इस तरह चूल्हे का बेस बनकर तैयार हो जाएगा।

अब उस तैयार बेस के ऊपर गोलाई में ईंट की दीवार खड़ी कर दें, ठीक इसी प्रकार की दीवार चूल्हे के अंदरूनी भाग में भी लगा दें। ऐसा करने लगे चूल्हे के अंदर लोहे की छड़ी बिछाने के लिए पर्याप्त जगह बन जाएगी, इसके बाद उस अंदरूनी ईंट की दीवार के ऊपर 10 से 12 लोहे की छड़ी बिछा दें और उसके किनारों को सीमेंट के लेप से अच्छी तरह से कवर कर दें।

इसके बाद गोल आकार वाली ईंटी दीवार को अंदर वाली दीवार के मुकाबले थोड़ा और ऊंचा कर दें, ताकि उसके अंदर आसानी से आग जलाई जा सके। ईंट की दीवार को सूखने दें और दूसरी तरफ फर्श पर पॉलीथिन बिछा कर एक बार फिर गोल आकार की प्लेट तैयार कर लें, इस प्लेट के बीचों बीच बाल्टी से दो छेद कर दीजिए।

उस प्लेट को धूप में अच्छी तरह से सूखाने के बाद ईंटों से बने चूल्हे के ऊपर रख दें और सीमेंट के लेप से मजबूती के साथ चिपका दीजिए, इस चूल्हे को धूप में अच्छी तरह से सूखने दें। इस तरह आपका मॉडन चूल्हा तैयार हो जाएगा, जिसके खुले हुए भाग से लकड़ियाँ जलाई जा सकता हैं जबकि चूल्हे के ऊपर मौजूद दोनों होल्स पर एक समय दो व्यंजन पकाए जा सकते हैं।

चारों तरफ से ईंट की दीवार से कवर होने की वजह से चूल्हे में जलने वाली लकड़ियों का धुंआ बाहर नहीं आता है, यह मॉडन चूल्हा एक बर्नर की तरह काम करता है। इसके सामने बैठकर आप आग सेक सकते हैं, जबकि चूल्हे के ऊपर खाना बनाकर ईंधन की बचत कर सकते हैं।

आप चाहे तो इस धुंआ रहित चूल्हा को अच्छा लुक देने के लिए इसके पीछे ईंट और सीमेंट की मदद से एक चिमनी तैयार कर सकते हैं, लेकिन उस चिमनी का मुंह पूरी तरह से बंद करना होगा, वरना धुंए को बाहर निकलने के लिए रास्ता मिल जाएगा।

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok Mantra अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Dhara Patel

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!