सिपाही के रोने के बाद अब SP साहब हुए खाने को लेकर ‘फायर’, पानी वाली दाल, कच्ची रोटियां देख भड़के

कुछ दिनों पहले ही फिरोजाबाद से एक वीडियो वायरल हुआ था. वीडियो में यहां के पुलिस कार्यालय के सम्‍मन सेल में तैनात सिपाही मनोज कुमार ने रो-रोकर पानी वाली दाल और जली रोटियां दिखाते हुए खाने की खराब क्वालिटी की शिकायत की थी. खाने की खराब क्वालिटी पर एक बार फिर से सवाल उठे हैं.

मेस का खाना देख एसपी हुए नाराज

हालांकि इस बार इन आरोपों में दम नजर आ रहा है, क्योंकि इस बार सवाल किसी सिपाही ने नहीं बल्कि खुद एसपी साहब ने उठाया है. उत्तरप्रदेश के मैनपुरी में जिला एसपी पुलिस मेस के खाने की खराब क्‍वालिटी पर भड़क गए.

यह तब हुआ जब जिले के एसपी एसपी कमलेश दीक्षित पुलिस मेस के भोजन की गुणवत्‍ता और साफ-सफाई का औचक न‍िरीक्षण करने पंहुचे.

एसपी दीक्षित का मेस में निरीक्षण के दौरान वीडियो लिया गया, जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वह इस वीडियो में दाल के भगाने में चमचा घुमाकर दाल खोजते नजर आ रहे हैं. एसपी साहब उस समय भड़क गए जब उन्हें डाल के भगोने में दाल की जगह सिर्फ पानी मिला.

इसके बाद तो वह मेस प्रबंधक पर चिल्‍लाते हुए कहने लगे ‘दाल में पानी है या पानी में दाल है.’ इसके बाद एसपी साहब एक बार फिर तब भड़के जब उन्होंने कच्‍ची-जली रोटियों को देखा.

मेस वालों को लगाई फटकार

एसपी दीक्षित मेस की रसोई में पड़ी गंदगी देख कर और ज्यादा भड़क गए. उन्होंने कर्मचरियों को जमकर फटकारा. एसपी दीक्षित के भड़कने के बाद मेस में काम करने वालों ने उनसे माफी मांगते हुए कहा कि अब सुधार होगा.

इस पर एसपी ने कहा कि, ‘क्या फिरोजाबाद जैसी घटना की पुनरावृत्ति मैनपुरी में भी कराना चाहते हो? ऐसा करोगो तो नौकरी से हाथ धोना पड़ेगा.’

एसपी दीक्षित ने मेस में खाना खाने वाले सिपाहियों से कहा, ‘आप लोग क्‍यों इतना शर्म करते हैं. बताने में आप लोगों को क्‍या दिक्‍कत आ रही है. यह दशा है.’

क्या सही था मनोज कुमार का आरोप ?

बता दें कि फिरोजाबाद के पुलिस कार्यालय के सम्‍मन सेल में तैनात सिपाही मनोज कुमार कुछ दिन पहले चर्चा में आए थे. उन्होंने एक वीडियो के माध्यम से सड़क खड़े हो कर रोते हुए पानी वाली दाल और जली रोटियां सबको द‍िखाई थीं.

हालांकि उन्हें मानसिक रूप से बीमार बता कर इस मामले को दबा दिया गया था. विभाग की ओर से उनके संबंध में बताया गया कि उनका अपनी पत्‍नी के साथ विवाद चल रहा है इसलिए वह परेशान हैं.

इसके साथ ही कहा गया था कि आगरा में उसका मानसिक परीक्षण भी हुआ है. इस मामले में जांच कर असलियत सामने लाने की बात भी कही गई थी. हालांकि मैनपुरी के एसपी साहब का ये वीडियो इस बात को सही साबित कर रहा है कि मनोज कुमार की बात में दम था.

ऐसा रहा SP साहब के निरीक्षण का परिणाम

SP कमलेश दीक्षित द्वारा मेस में निरीक्षण के दौरान ली गई वीडियो के वायरल होने के बाद, अब उन्होंने अपने उस निरीक्षण के संबंध में मीडिया को बताया है. SP दीक्षित ने बताया कि वे सिपाहियों के वेल्फेयर के लिए अक्सर निरीक्षण करते रहते हैं.

इस दौरान पुलिस सिपाहियों के रहने, खाने आदि जैसी व्यवस्थाओं को चेक किया जाता है. अगर इनमें कोई कमी पाई जाती है तो उसमें सुधार किया जाता है. SP साहब ने आगे बताया कि पुलिस मेस के निरीक्षण का परिणाम अच्छा रहा. दूसरे दिन चेक करने पर पाया गया कि मेस का खाना अच्छा था.

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok Mantra अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!