Indian Army के लिए है Mahindra Scorpio, जानिए सेना के नाम कितनी एसयूवी

Indian Army के लिए हमेशा बेस्ट क्वालिटी की गाड़ियां भेजी जाती हैं। इसी क्रम में अब महिंद्रा की स्कॉर्पियो भी इंडियन आर्मी का हिस्सा होने वाली है। जी हां,

महिंद्रा के पास इंडियन आर्मी की तरफ से 1470 महिंद्रा स्कॉर्पियो क्लासिक का ऑर्डर आया है। लेकिन ये वैसी क्लासिक स्कॉर्पियो नहीं होगी जो आम लोगों के लिए शोरूम में अवेलेबल है, बल्कि इसमें आर्मी के हिसाब से कई अपडेट्स भी किये जाएंगे। आइए जानते हैं आर्मी स्कॉर्पियो क्लासिक में क्या-क्या एडिशनल है।

दो पहियों की बजाए अब 4WD होगी क्लासिक स्कॉर्पियो

महिंद्रा स्कॉर्पियो क्लासिक में 2wd यानी 2 व्हील ड्राइव ऑप्शन होता है, पर आर्मी के लिए जो स्कॉर्पियो क्लासिक जाएगी, उसमें 4WD ऑप्शन होगा यानी आर्मी की जरूरत को देखते हुए,

गाड़ी चारों टायर्स की पावर का इस्तेमाल करेगी। इसीलिए इस कार में नॉर्मल के मुकाबले 10bhp ज्यादा पावर होगी। महिंद्रा स्कॉर्पियो क्लासिक जहां 130bhp पावर जनरेट करती है वहीं महिंद्रा स्कॉर्पियो क्लासिक आर्मी स्पेशल 140bhp पावर जनरेट करेगी।

इसके साथ ही दोनों विंडशील्ड के आगे एक ब्लैक प्लास्टिक पैनल भी लगेगा जो गाड़ी को और बेहतर सुरक्षित बनाएंगे। बाकी इसके व्हील्स क्लासिक स्टील में ही होंगे। लुक भी बिल्कुल क्लासिक जैसी होगी। हां, बॉडी पेंट में हो सकता है कि आर्मी प्रिन्ट का इस्तेमाल हो, हालांकि इसके बारे में अभी कोई स्पष्ट जानकारी नहीं मिली है।

क्या ये स्कॉर्पियो होगी बुलेट प्रूफ?

महिंद्रा स्कॉर्पियो क्लासिक आर्मी एडीशन महिंद्रा रक्षक की तरह ही बुलेट प्रूफ होगी। महिंद्रा इससे पहले आर्मी के वार टाइम के लिए रक्षक एसयूवी बना चुके हैं जो पूरी तरह बुलेटप्रूफ होती थी। माना जा रहा है कि महिंद्रा स्कॉर्पियो क्लासिक भी रक्षक की तरह ही 7.62mm बुलेट को शीशे या बॉडी भेदने से रोक सकेगी।

कौन सी एसयूवी है आर्मी की फेवरेट?

इंडियन आर्मी में टाटा नेक्सोन की पिकअप भी शामिल हुई है और टाटा सफारी स्टॉर्म भी पसंद की गई है। लेकिन आर्मी के लिए करीब दो दशक तक सेवा देने वाली मारुति सुजुकी जिप्सी आर्मी की फेवरेट एसयूवी रही है। हालांकि कुछ समय पहले सॉफ्ट टॉप के साथ जिप्सी की जगह टाटा सफारी स्टॉर्म 3 डोर आर्मी के सामने प्रदर्शित हुई थी, लेकिन इसका चुनाव न हो सका।

2022 मार्च की एक रिपोर्ट के मुताबिक इंडियन आर्मी अपनी 35000 पुरानी मारुति सुजुकी जिप्सी को रिप्लेस करने का इरादा कर चुकी है। महिंद्रा स्कॉर्पियो इसकी जगह ले सकती है पर जिप्सी के मुकाबले स्कॉर्पियो का स्टील टॉप है जो शायद आर्मी में उतना पोपुलर न हो सके जितनी सॉफ्ट टॉप के साथ मारुति सुजुकी जिप्सी थी।

हालांकि खबर यह भी है कि इंडियन आर्मी अब कुछ इलेक्ट्रिक वाहनों को भी शामिल करना चाहती है। हाल ही में एयरफोर्स में भी 12 टाटा नेक्सोन ईवी शामिल की गई हैं। वैसे आंकड़ों को देखते हुए, आर्म फोर्सेस को जिस पावर की जरूरत पड़ती है, वो पावर और ड्यूरेबिलिटी इलेक्ट्रिक कार्स से मिलना मुश्किल लगता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!