ठेले पर सब्जियां बेचीं, खेतों पर पसीना बहाया, अब खुद की कंपनी खड़ी कर लाखों कमा रहे

कुछ कहानियां दिल को छू लेने वाली होती हैं. महाराष्ट्र के पुणे के रहने वाले उमेश देवकर की कहानी कुछ ऐसी ही है. पेशे से मैकेनिकल इंजीनियर उमेश पढ़ाई के बाद नौकरी पाने में सफल रहे. मगर, एक समय बाद उन्होंने खुद का काम शुरू किया. यह सफर उनके लिए आसान नहीं था. उन्होंने शुरुआत ठेले पर सब्जियां बेचने से शुरू की थी, जिसे बाद में उन्होंने मेहनत से एक होम डिलीवरी कंपनी के रूप में बदल दिया.

सालाना करीब 2.5 करोड़ रुपए का टर्नओवर

दैनिक भास्कर की एक रिपोर्ट के मुताबिक वो पिछले 4 साल से ‘फार्म टु होम’ नाम से अपना एक स्टार्टअप चला रहे हैं. जिसके जरिए वो फल, सब्जियां और डेयरी प्रोडक्ट सीधे ग्राहकों तक पहुंचाते हैं और सालाना करीब 2.5 करोड़ रुपए का टर्नओवर कर रहे हैं. उमेश देवकर की कहानी इसलिए भी खास है क्योंकि वो एक किसान परिवार से आते हैं.

ठेला लगाकर सब्जियां बेचकर की थी शुरुआत

साल 2017 में उमेश ने पहली बार भांडुप में एक सोसाइटी के बाहर अपना ठेला लगाकर सब्जियां बेची थीं. इसके बाद खेती को ही उन्होंने करियर बनाया और अब मोटी कमाई के साथ बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार देने का काम कर रहे हैं. उनकी टीम में करीब 30 लोग काम करते हैं, जो खेती किसानी से लेकर मार्केटिंग में उनकी मदद करते हैं.

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok Mantra अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!