माछल में बर्फ से फिसलकर गाड़ी गहरी खाई में गिरी, रेगुलर ऑपरेशन के दौरान हादसा

जम्मू और कश्मीर के कुपवाड़ा के माछिल सेक्टर में सेना का अफसर और 2 जवान शहीद हो गए। ये तीनों भारतीय सेना की चिनार कॉर्प्स के सैनिक थे। इनमें एक JCO (जूनियर कमीशंड ऑफिसर) और 2 OR (अन्य रैंक) का एक दल रेगुलर ऑपरेशन के लिए निकला था। बर्फ के कारण उनकी गाड़ी फिसलकर गहरी खाई में गिर गई। तीनों जवानों के शव मिल गए हैं।

मरने वालों के नाम नायब सूबेदार पुरुषोत्तम कुमार, हवलदार अमरीक सिंह और सिपाही अमित शर्मा हैं।

दो हफ्ते पहले भी गई थी 16 जवानों की जान

सिक्किम के जेमा में 15 दिन पहले आर्मी का ट्रक खाई में गिर गया था, इसमें 16 जवान शहीद हो गए थे। आर्मी के दो वैन और थे। तीनों वाहन शुक्रवार सुबह चटन से थंगू के लिए निकले थे। रास्ते में ट्रक एक मोड़ पर फिसलकर खाई में जा गिरा था। इस हादसे में 4 जवान गंभीर रूप से घायल हुए थे, जिन्हें बाद में एयरलिफ्ट किया गया था।

दो महीने पहले भी हुआ था माछिल में हादसा

पिछले साल नवंबर में भी कुपवाड़ा के माछिल इलाके में 3 जवान हिमस्खलन की चपेट में आ गए थे। 2 जवानों को बर्फ के नीचे से सुरक्षित निकाला गया था। जब हादसा हुआ तब 56 राष्ट्रीय रायफल्स के ये पांचों जवान रूटीन गश्त कर रहे थे। हादसे की जानकारी मिलते ही रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया, लेकिन जब तक जवानों को निकाला गया तब तक 3 की मौत हो गई थी।

जम्मू-कश्मीर में एक सड़क हादसे में शहीद जवानों में से दो हमीरपुर और ऊना के रहने वाले थे। दोनों भारतीय थल सेना की 14 डोगरा रेजिमेंट में कुपवाड़ा के माछिल सेक्टर में तैनात थे। बताया जा रहा है कि मंगलवार रात बर्फीले इलाके में गश्त के दौरान सेना का वाहन बर्फ से फिसलकर खाई में जा गिरा। जिससे दोनों जवानों की मौत हो गई।

डेगाना के चरड़ास गांव के आर्मी जवान जोगेंद्र सिंह शेखावत कैंसर पीड़ित रिश्तेदार से मिलने के लिए छुट्टी पर आए थे। ड्यूटी पर लौटने के लिए छोटे भाई दुर्ग सिंह के साथ मोटरसाइकिल पर डेगाना जाते समय सामने अचानक गाय आने की वजह से जोगेंद्र सिंह घायल हो गए। उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया। जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!