पायलट पिता को उनके रिटायरमेंट के दिन कैप्टन बेटी ने दी Emotional विदाई, भावुक हुए पिता-बेटी

एक पिता अपने बच्चों की सफलता पर खुश होता है लेकिन जब बच्चे उनकी सफलता और उनके जीवन के सफर पर गर्व करते हैं तो उनकी आंखें भर आती हैं. रिटायरमेंट किसी भी शख्स के लिए एक भावुक क्षण होता है. जिस नौकरी में अपना पूरा जीवन बिताया हो उसे छोड़ना कहीं न कहीं तो दुख पहुंचाता है. ऐसे में जब परिवार के सदस्य या बच्चे आपकी कामयाबी और आपके सफर के बारे में बोलते हैं तो इंसान अपने आंसू नहीं रोक पाता.

पायलट बेटी ने पिता के लिए दी स्पीच

ऐसा ही कुछ देखने को मिला एक उड़ती फ्लाइट में, जहां एक पायलट बेटी ने अपने पिता के लिए एक भावुक भाषण दिया. दरअसल, सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. जिसमें एक बेटी अपने सेवानिवृत्त हो रह कैप्टन पिता को आखिरी बार होम बेस पर ले जा रही है ती है.

यहां देखें वीडियो

यह खुशी का पल तब भावुकता में बदल गया जब एक पायलट बेटी ने अपने सेवानिवृत्त कैप्टन पिता को अपने भाविक स्पीच के साथ शुभकामनाएं दीं. कैप्टन सीके व्यास हाल ही में हिमालयपुत्र एविएशन लिमिटेड, दिल्ली के साथ एक हेलिकॉप्टर पायलट के पद से सेवानिवृत्त हुए हैं. व्यास 43 साल तक पायलट रहे. एक कॉर्पोरेट फर्म में शामिल होने से पहले वे भारतीय वायु सेना में थे.

बेटी के लिए था खास दिन

कैप्टन व्यास के रिटायरमेंट के लिए उनकी सबसे छोटी बेटी कप्तान चानू व्यास ने उड़ते विमान में भाषण दिया. चानू इंडिगो में प्रथम अधिकारी हैं. वह रायपुर से नई दिल्ली जाने वाले विमान को उड़ा रही थीं और इसी फ्लाइट में उनके पिता कैप्टन सीके व्यास भी सवार थे. चानू ने अपनी स्पीच को ‘बहुत खास’ व ‘भावनात्मक दिन’ कहकर शुरू किया.

स्पीच देते हुए चानू भावुक हो गईं और पहले कुछ मिनटों में ही फूट-फूट कर रो पड़ीं. उन्होंने कहा, “मैं भारतीय वायु सेना के पूर्व अधिकारी और मेरे पिता कैप्टन चंद्रकांत व्यास के साथ उड़ान भर रही हूं. यह उनके लिए एक विशेष दिन है क्योंकि वह 43 साल तक उड़ान भरने के बाद आज सेवानिवृत्त हो रहे हैं. वह 27 साल तक भारतीय वायु सेना में रहे. यह वास्तव में एक भावुक दिन है. वह एक हेलीकॉप्टर पायलट हैं.”

उन्होंने कि वह अपने पिता को आज उनके ‘होम बेस’ पर छोड़ने जा रही हैं और उन्होंने इसे सम्मान के रूप में लिया. उन्होंने आगे कहा, “उनके आखिरी दिन विमान से उनके घर वापस लौटना मेरे लिए बहुत सम्मान की बात है. डैडी, मैं आपको एक प्रेरक कार्य और अपने करियर के प्रति प्रतिबद्ध रहने के लिए आपको बधाई देती हूं. ह

में आप पर बहुत गर्व है और हम आपके द्वारा इस मील के पत्थर को प्राप्त करने के लिए बहुत खुश हैं. जिस उत्साह के साथ आपने अपनी जॉब की उसी उत्साह और जुनून के साथ आप अपने जीवन के इस नए अध्याय का आनंद लें. मुझे नहीं पता था कि मैं इतनी इमोशनल हूं. डैडी को देखकर ही मैं इमोशनल हो रही हूं.’

चीनू ने अपने विशेष दिन का हिस्सा बनने के लिए फ्लाइट में सवार सभी लोगों का धन्यवाद किया. उनकी स्पीच के बाद सभी यात्रियों ने तालियों की गड़गड़ाहट से उनका अभिवादन किया.

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok mantra से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है.]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!