वाह! किसान आंदोलन में टेंट के अंदर बैठकर की पढ़ाई, अब बनेंगे यूपी सरकार में असिस्टेंट कमिश्नर

दिल्ली-यूपी के गॉजीपुर बॉर्डर  पर पिछले 11 महीने से किसान आंदोलन कर रहे हैं. यूपी गेट पर किसानों के आंदोलन के बीच से एक पॉजिटिव खबर सामने आई है. किसान आंदोलन में शामिल इंद्रपाल सिंह का चयन यूपीपीसीएस में हो गया है. इंद्रपाल उत्तर प्रदेश सरकार में असिस्टेंट कमिश्नर बन चुके हैं.

6 महीने तक की जमकर पढ़ाई

यूपी के कौशांबी जिले के रहने वाले इंद्रपाल सिंह किसान आंदोलन का हिस्सा रहे हैं. दिल्ली-यूपी के गाजीपुर बॉर्डर पर चल रहे किसानों के आंदोलन के दौरान इंद्रपाल एक टेंट में बैठकर पढ़ाई किया करते थे. उन्होंने 6 महीने से अधिक का समय टेंट में बिताया फिर यूपीपीसीएस के तहत उनका चयन हो गया. मार्च में इंटरव्यू होने के बाद जून में उन्होंने अपनी पोस्ट संभाल ली.फिलहाल वह दो साल के प्रोविजन पीरियड पर हैं, उसके बाद वह असिस्टेंट कमिश्नर बनेंगे.

अब किसान कानून को लेकर लोगों को करेंगे जागरूक

इंद्रपाल सिंह ने बताया कि वह अब सिस्टम का हिस्सा हैं. चयनित होने के बाद वह कभी आंदोलन में शामिल नहीं हुए.उन्होंने कहा कि पहले वह खुद तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों के बारे में जानकारी हासिल करेंगे. इसके बाद इसके फायदे के बारे में बताएंगे. साथ ही सभी को जागरूक भी करेंगे.

खाली समय में करते थे पढ़ाई

इंद्रपाल सिंह किसान आंदोलन की हर छोटी बड़ी गतिविधियों में हिस्सा लेते रहे. लेकिन, हिंसक प्रदर्शन नहीं किया. इसके साथ यहां पर रहने के दौरान सिर्फ पढ़ाई की. इस दौरान यहां पर आने वाले बच्चों को भी पढ़ाया.

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok Mantra अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!