काम नहीं करते दोनों पैर, फिर भी एक दिन स्कूल मिस नहीं किया, मेहनत से 12वीं में ले आए 100% मार्क्स

इंसान अगर ठान ले तो उसके लिए कुछ भी असंभव नहीं. इस बात को सच साबित किया है राजस्थान, दौसा के दिव्यांग रवि कुमार मीणा ने. शारीरिक असक्षमता से जूझते हुए रवि ने जो कारनामा कर दिखाया, वो बहुत से अच्छे-भले लोगों के लिए सपने जैसा है.

प्राप्त किये 100% अंक

दरअसल, शनिवार को माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान ने दिव्यांग व मूकबधिर विद्यार्थियों के 12वीं का रिजल्ट जारी किया है. इस परीक्षा परिणाम में 12वीं बोर्ड के आर्ट्स सेक्शन में दौसा के रवि कुमार मीणा ने वो कर दिखाया है,

जिसे देखकर हर कोई हैरान है. दौसा जिले के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय गंडरावा में पढ़ने वाले रवि कुमार मीणा ने परीक्षा में 100% नंबर हासिल किये हैं. रवि ने अनिवार्य हिंदी और अंग्रेजी के साथ-साथ राजनीति विज्ञान, इतिहास और भूगोल विषय में 100 में से 100 नंबर प्राप्त किए हैं.

खूब मेहनत की, फिर मिला फल

दिव्यांग रवि के दोनों पैर काम नहीं करते है. भले ही उनके पैर नहीं हैं लेकिन उनका हौसला और जज्बा कमाल का है. इसी हौसले के दम पर रवि हर रोज स्कूल जाते थे. स्कूल जाने के लिए वह अपनी ट्राई साइकिल का इस्तेमाल करते थे.

रवि की पढ़ाई केवल स्कूल भर ही सीमित नहीं थी, इसके अलावा वह हर रोज 6 से 8 घंटे तक नियमित पढ़ाई करते रहे हैं.

परिवार है बेहद खुश

अब रवि को उनकी मेहनत का इतना मीठा फल मिला है कि हर कोई उनकी तारीफ करते नहीं थक रहा. उन्होंने अपनी इसी मेहनत के दम पर 12वीं बोर्ड आर्ट्स में 100 में से 100% नंबर हासिल किये हैं.

उनकी इस सफलता के बाद उनका पूरा परिवार और जानने वाले खुशी से निहाल हो रहे हैं. उनके घर अब बधाई देने वालों की भीड़ लगी हुई है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार रवि के परीक्षा परिणाम ने स्कूल अध्यापकों से लेकर पूरे गांव के लोगों तक को हैरान कर दिया है. अब उनके जानने वाले और स्कूल के प्रिंसिपल सहित अनेक लोग उनके घर आ कर उन्हें शुभकामनाएं दे रहे हैं.

इतना ही नहीं, शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने भी रवि कुमार मीणा को बधाई देते हुए कहा है कि, ‘रवि ने पूरे दौसा जिले का नाम रोशन किया है.’

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok mantra से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है.]

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!