Hockey World Cup IND vs WAL: भारत ने वेल्स को हराया, लेकिन क्वार्टरफाइनल की राह हुई मुश्किल

भारतीय हॉकी टीम ने पूल डी के अपने तीसरे मुकाबले में वेल्स का सामना किया। इस मैच से पहले, भारतीय टीम तीन बार वेल्स का सामना कर चुकी थी और हर बार उसे जीत मिली थी। भारत ने वेल्स के खिलाफ सबसे बड़ी जीत 4 अगस्त 2022 को हासिल की थी, जिसमें उसे 4-1 से जीत मिली थी।

लेकिन वर्ल्ड कप के मैदान पर इस बार मामला अलग था। उसे क्वार्टरफाइनल में जगह हासिल करने के लिए छोटी समझी जाने वाली टीम वेल्स के खिलाफ बड़ी जीत की दरकार थी। यह मुमकिन नहीं हुआ। भारतीय स्ट्राइकर्स और फॉरवर्ड प्लेयर्स की खराब तालमेल की वजह से यह संभव नहीं हो सका।

पहले क्वार्टर में नहीं हुआ कोई गोल

भारत और वेल्स के बीच 15 मिनट के पहले क्वार्टर में कोई गोल नहीं हुआ। इस दौरान, खिलाड़ी ज्यादातर मैदान के बीच में ही बॉल को घुमाते रहे। इस वजह से फील्ड गोल का कोई मौका तो नहीं ही मिला, भारतीय टीम कोई पेनल्टी कॉर्नर भी अर्जित नहीं कर सकी।

दूसरे क्वार्टर में खुला भारत का खाता

खेल के दूसरे क्वार्टर में भारत को बैक टू बैक दो पेनल्टी कॉर्नर्स मिले। 17वें मिनट में मिला पहला पेनल्टी कॉर्नर बेकार चला गया। इसके बाद, 21वें मिनट में मिले दूसरे पेनल्टी कॉर्नर में भारत को सफलता मिली। अपने करियर का 50 इंटरनेशनल मैच खेल रहे शमशेर सिंह ने इस मौके पर पेनल्टी कॉर्नर से गोल दागकर भारत को 1-0 की बढ़त दिलाई। हाफ टाइम तक भारत के पास 82 फीसदी बॉल पजेशन रहा जबकि वेल्स के पास सिर्फ 18 फीसदी।

तीसरे क्वार्टर में बदल गई मैच की तस्वीर

भारतीय मिडफील्डर आकाशदीप सिंह ने तीसरे क्वार्टर में खेल के 32वें मिनट में एक शानदार फील्ड गोल किया जिससे वेल्स पर भारत ने 2-0 की लीड हासिल कर ली। इसके ठीक बाद, 32वें मिनट में ही मेजबान टीम को मैच का तीसरा पेनल्टी कॉर्नर भी मिला पर वह इसे गोल में कंवर्ट नहीं कर सकी। हालांकि इसके बाद तीन और पेनल्टी कॉर्नर मिले पर भारतीय खिलाड़ी हर मौके पर चूक गए। यहां से यह पूरा क्वार्टर वेल्स के नाम रहा। उसे तीन पेनल्टी कॉर्नर मिले जिसमें से दो में उसने सफलता हासिल की और मैच को 2-2 की बराबरी पर पहुंचा दिया।

चौथे क्वार्टर में जीता भारत

चौथे क्वार्टर के शुरू होते ही भारतीय खिलाड़ियों ने बिजली की गति से मैदान में हरकत शुरु की। खेल के शुरू होते ही 45वें मिनट में आकाशदीप ने मुकाबले में अपना दूसरा गोल दाग दिया जिससे भारत 3-2 से आगे हो गया।

भारत को एक करीबी मुकाबले में 4-2 से जीत मिली जबकि क्वार्टरफाइनल में जगह बनाने के लिए कम से कम सात गोल के अंतर से जीत दर्ज करने की जरूरत थी। अब उसे क्वार्टरफाइनल का टिकट हासिल करने के लिए न्यूजीलैंड का सामना करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!