भारत की हार से निराश हुए हेड कोच, कहा मानसिक दबाव के कारण हारी टीम इंडिया

हॉकी वर्ल्ड कप 2023 में रविवार को खेले गए क्रॉसओवर मैच में भारत को न्यूजीलैंड के हाथों पेनल्टी शूटआउट में हार का सामना करना पड़ा। इस मैच में मिली हार के बाद टीम इंडिया वर्ल्ड कप की रेस से बाहर हो चुकी है। इस हार ने सभी भारतीय फैंस के दिलों को तोड़ दिया।

टीम इंडिया के मुख्य कोच ग्राहम रीड निराश नजर आए। ग्राहम रीड ने रविवार को कहा कि टीम को मानसिक अनुकूलन पर ध्यान देने के लिए कोच की जरूरत है। रीड की टिप्पणी इस बात का संकेत हो सकती है कि उनकी टीम खेल के मानसिक पहलू से निपटने में सक्षम नहीं थी।

क्या बोले टीम के कोच

न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए क्रॉसओवर मैच में टीम इंडिया अपना दबदबा बनाया लेकिन उसे बरकरार रखने में कामयाब नहीं हो सकी और अंत में मैच 3-3 पर समाप्त कर दिया। मैच के बाद व्याकुल रीड ने कहा, “हमें शायद कुछ अलग करने की जरूरत है।

इसके बाद, हम इस पर काम करेंगे कि हम मानसिक कोच को कैसे शामिल कर सकते हैं। मुझे लगता है कि टीम के भविष्य के लिए यह एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। जहां तक ​​​​ड्रिल या प्रशिक्षण का संबंध है, हम वही करते हैं जो अन्य सभी टीमें करती हैं। मैं इस खेल में लंबे समय से हूं और मुझे पता है कि अन्य टीमें क्या कर रही हैं। मुझे लगता है कि मानसिक रूप से हमें मजबूत होने कि जरूरत है।”

भारत ने गंवाया मौका

शूटआउट में भारत और न्यूजीलैंड पांच शॉट के बाद 3-3 से बराबरी पर थे। कप्तान हरमनप्रीत सिंह के पास सडन डेथ के पहले दौर में मैच को सील करने का मौका था जब न्यूजीलैंड के निक वुड्स ने मौका गंवा दिया, लेकिन उन्होंने दूर से सीधे हिट लेने का फैसला किया और सुनहरा मौका गंवा दिया।

इसके बाद, राज कुमार पाल और सीन फिंडले दोनों ने स्कोर किया क्योंकि स्कोर बराबर था। सुखजीत और हेडन फिलिप्स दोनों स्कोरलाइन स्तर को बनाए रखने से चूक गए। शमशेर सिंह अंत में चूक गए, जबकि सैम लेन ने न्यूजीलैंड के लिए 5-4 की शूटआउट जीत पर मुहर लगाई और कलिंगा स्टेडियम बैठे फैंस के दिलों को तोड़ दिया।

नहीं खत्म हुआ 48 साल का इंतजार

भारत को अब अपना अगला क्लासिफिकेशन मैच 26 जनवरी को जापान के खिलाफ खेलना है। भारत ने पूरे टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन किया। इस मैच में टीम इंडिया अच्छा प्रदर्शन कर रही थी,

लेकिन अचानक से मैच न्यूजीलैंड के पक्ष में मुड गया और भारत ने एक के बाद एक लगातार गोल खाने शुरू कर दिए। भारतीय टीम ने पिछले 48 साल से वर्ल्ड कप नहीं जीता है। टीम इंडिया अब इसके लिए और इंतजार करना पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!