पेट्रोल डीजल के बढ़ते दाम के बीच गुजरात के किसान ने बना दिया बैटरी से चलने वाला ‘व्योम’ ट्रैक्टर

ईंधन की कीमतें रोज़ाना आसमान छू रही हैं. पेट्रोल-डीज़ल के बढ़ते दाम की वजह से फल-सब्ज़ियां, पब्लिक ट्रांसपोर्ट का किराया सबकुछ महंगा हो रहा है. ऐसे में लोग पेट्रोल डीज़ल का विकल्प ढूंढ रहे हैं. गुजरात के एक किसान ने पेट्रोल डीज़ल का एक विकल्प विकसित कर लिया है.

बैटरी से चलने वाला ‘व्योम ट्रैक्टर’

ज़िला जामनगर के कलावाड के रहने वाले एक युवा किसान ने बैटरी से चलने वाला ट्रैक्टर विकसित कर लिया है. कलावाड तालुक के पिप्पर गांव के रहने वाले 34 वर्षीय महेश भाई ने खेती के लिए बैटरी से चलने वाला व्योम ट्रैक्टर बनाया है. महेश के पिता भी किसान हैं और बचपन से ही उन्हें घर पर खेती-बाड़ी के काम देखे हैं.

4 घंटे में फ़ुल चार्ज, 10 घंटे तक चल सकता है ट्रैक्टर

महेश भाई द्वारा बनाया गया ट्रैक्टर 22 एचपी पावर लेता है. इसमें 72 वाट की लिथियम बैटरी लगी है. ये एक अच्छी क्वालिटी की बैटरी है और इसे बार-बार बदलने की ज़रूरत भी नहीं पड़ेगी. व्योम ट्रैक्टर को फ़ुल चार्ज होने में 4 घंटे लगते हैं. एक बार फ़ुल चार्ज होने के बाद ये 10 घंटे तक चल सकती है.

फ़ोन से भी किया जा सकता है कंट्रोल

व्योम ट्रैक्टर में कई ख़ास फ़ीचर्स लगे हुए हैं. मॉर्डन समय को ध्यान में रखते हुए ये ट्रैक्टर बनाया गया है. इस ट्रैक्टर की स्पीड को फ़ोन से भी कंट्रोल किया जा सकता है. ट्रैक्टर में एक मोटर भी लगाया गया है जिससे पानी की ज़रूरत होने पर इस्तेमाल किया जाया सकेगा. व्योम ट्रैक्टर से प्रदूषण नहीं फैलता.

रोज़ाना अंसख्य लोगों की चप्पलें चोरी होती हैं लेकिन पहली बार किसी ने चप्पल चोरी होने की शिकायत दर्ज करवाई है.

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok Mantra अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!