ससुर की दरियादिली देख कर भावुक हो गयी दुल्हन, बोली बहू हर किसी को मिले ऐसा परिवार

उत्तर प्रदेश में एक ससुर ने अपनी बहू को विदाई के समय गाड़ी उपहार में दी। ससुर की ओर से मिला ये तोहफा पाकर बहू भावुक हो गई और रोने लग गई। कानुपर के रहने वाले एक कारोबारी ने अपने बेटे का रिश्ता किसान की एक बेटी से तय किया था। शादी होने के बाद जब विदाई की बारी आई तो दूल्हे के पति ने दुल्हन के घर के बाहर एक नई गाड़ी लाकर खड़ी कर दी। जब दुल्हन ने पूछा की ये गाड़ी किसी है? तो उसे पता चला कि ससुर ने ये गाड़ी उसे उपहार के तौर पर दी है।

अर्पण कुमार ने अपने इंजीनियर बेटे आदर्शराज की शादी गांव के ही किसान चंद्रमोहन की बेटी अंजलि द्विवेदी से तय की थी। मंगलवार को अर्पण कुमार बारात लेकर साकेत नगर स्थित गहोई भवन में पहुंचे थे। यहां पर धूमधाम से इन दोनों की शादी करवाई गई। वहीं अगली सुबह अंजलि द्विवेदी की विदाई करवाई गई और उसे नई गाड़ी में बैठाया गया।

गाड़ी में बैठने के बाद अंजलि द्विवेदी के ससुर अर्पण कुमार ने उसे कार की चाबी पकड़ा दी। जिसके बाद अंजलि ने अपने पति से पूछा कि पाप ने उसे क्यों गाड़ी की चाभी दी है। इसपर पति ने कहा कि ये गाड़ी पापा ने उपहार में दी है। ये बात सुनकर अंजलि भावुक हो गई और रोने लगी। ससुर की ओर से दी गई गाड़ी की खबर जैसे ही रिश्तेदारों को मिली तो वो भी हैरान हो गए।

भौंती निवासी अर्पण कुमार त्रिवेदी गल्ला कारोबारी और गन हाउस के मालिक हैं। वे अपनी बहू और उसके परिवार वालों को पहले से ही जानते थे। उन्होंने कहा कि हमारी बहू बहुत संस्कारी है, उसके आगे हर दौलत फीकी है। उन्होंने कहा कि वे दहेज के सख्त खिलाफ हैं और उन्होंने लड़की पक्ष से किसी तरह की मांग नहीं की थी।

दुल्हन अंजलि से जब उपहार में गाड़ी मिलने पर प्रतिक्रिया मांगी गई, तो अंजिल ने कहा कि पहले तो उन्हें कुछ समझ में ही नहीं आया कि आखिर क्यों उनको चाभी दी गई है। कार के अंदर बैठे पति ने उन्हें बताया कि ये कार पापा ने उन्हें गिफ्ट की है। ये जानकार मैं रोने लगी। अंजलि ने कहा कि वो खुद को बहुत खुशनसीब समझ रही है जो ऐसी ससुराल उसे मिली है। भगवान ऐसा ससुराल सभी बेटियों को दें।

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok Mantra अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!