अमेरिका में 15 साल के लड़के ने पकड़ी दुर्लभ दुधिया सफ़ेद और गुलाबी रंग की मछली

प्रकृति की गोद में एक से एक नायाब हीरे छिपे हुए हैं. वक्त बेवक्त प्रकृति के नायाब करिश्में हमें दिखाई देते रहते हैं. फिर चाहे वो सफ़ेद धब्बों वाला ज़ीब्रा हो, या दुधिया सफ़ेद कंगारू या पीले रंग का कछुआ.

अमेरिका की टेनेसी नदी  में एक दुधिया सफ़ेद गुलाबी रंग की दुर्लभ मछली मिली है. खास बात ये है कि इस मछली को एक 15 साल के लड़के ने पकड़ा है.

फ़िशिंग ट्रिप पर गया था, दुर्लभ मछली पकड़ ली

Newsweek के लेख के अनुसार, 15 साल का एडवर्ड्स तारुमियांज़  28 जून को एक फ़िशिंग ट्रिप पर गया था. इस ट्रिप के दौरान ही उसने दुर्लभ कैटफ़िश  को पकड़ा. आमतौर पर कैटफ़िश भूरे रंग और धब्बेदार होती है.

दुधिया सफ़ेद और गुलाबी रंग की मछली

एडवर्ड्स ने जो कैटफ़िश पकड़ी उसका शरीर दुधिया सफ़ेद रंग का था. मछली के शरीर कहीं-कहीं से गुलाबी रंगी था. बताया जा रहा है कि मछली का ऐसा रंग एल्बनिज़्म की वजह से हो सकता है. एल्बनिज़्म इंसानों और जानवरों दोनों में ही बेहद कॉमन है.

एडवर्ड्स के गाइड, कैप्टन रिचर्ड सिम्स ने बताया कि वे 30 साल से कैटफ़िश पकड़ रहे हैं लेकिन आज तक उनकी नाव पर ऐसी अद्भुत मछली नहीं आई है. टेनेसी वाइल्डलाइफ़ रिसोर्सेस एजेंसी  के बायोलॉजिस्ट्स की टीम इस मछली के शरीर के रंगों की वजह नहीं बता पाई. गौरतलब है कि प्योर अलबाइनो जानवरों की आंखें, नाखुन, त्वचा आदि गुलाबी होते हैं.

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok Mantra अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!