इस मंदिर में होते हैं रोज नए चमत्कार, लेकिन यहाँ जाने का ये है नियम नहीं तो चली जाएगी जान

दुनिया में ऐसे कई मंदिर है जिनके चमत्कार के कारण फेमस है, आज हम एक ऐसे मंदिर के बारे में बताने जा रहे है जहां पर रोज एक ऐसा चमत्कार होता है जिसके बारे में कोई सोच भी नहीं सकता है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हम बात कर रहे है जबलपुर में स्थित मां लक्ष्मी का मंदिर जिसे पचमठा के नाम से जाना जाता है। इस मंदिर पर भक्तों का अटूट विश्वास बना हुआ है।

मंदिर अपने आप मे ही अनोखा व अद्भुत मंदिर कहलाता है, जिसका कारण है मंदिर में स्थापित देवी लक्ष्मी की मूर्ति। ये मंदिर तांत्रिक साधना के लिए फेमस है। मंदिर के बारे में कहते है कि परिसर के चारो ओर श्रीयंत्र की रचना है। दीवाली के दिन देशभर में से तांत्रिक अपनी तंत्र विद्या का प्रयोग करने आते है।

मंदिर की सबसे खास बात है कि यहां पर विराजमान मां लक्ष्मी की प्रतिमा दिन में तीन बार रंग बदलती है। जिसके अनुसार सुबह को प्रतिमा का रंग सफ़ेद होता है, दोपहर को पीला और शाम को नीला हो जाता है।जब लोग अपनी आखों से इस चमत्कार को देखते है तो उनको आखों पर विश्वास नहीं होता है।

सूरज की पहली किरण माँ लक्ष्मी के चरणों पर पड़ती है।कहते है कि जो भी कोई शख्स मंदिर में दर्शन करने आता है तो माता उसकी हर मनोकामना पुरी करती है। इसलिए यहां पर दिन में भक्तों का जमावड़ा लगा रहता है। कहा जाता है कि मां जिस पर भी खुश हो जाती हैं वो मालामाल हो जाता है और उसको कभी भी धन की कमी नहीं आती।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!