उत्तर भारत में Cold Attack, दिल्ली-हरियाणा समेत कई राज्यों में बढ़ी ठिठुरन, राजस्थान में जमी बर्फ

हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में बर्फबारी और उत्तर भारत में कड़ाके की सर्दी का दौर अभी जारी रहेगा.दिल्ली, यूपी-बिहार, पंजाब-हरियाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के लोगों को सर्दी अभी और सताएगी.

उधर झारखंड में भी कड़ाके की सर्दी का दौर शुरू हो गया है. राजस्थान के अधिकतर जिलों में 1 से2 डिग्री न्यूनतम तापमान में कमी देखी जा रही है. मौसम विभाग के अनुसार, अगले 24 घंटे में मौसम में कोई बदलाव की संभावना नहीं है. 19 जनवरी से न्यूनतम तापमान में हल्की बढ़ोतरी होने के बाद शीतलहर से कुछ राहत मिलने के आसार दिख रहे हैं.

मौसम विभाग ने रविवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी सहित उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में बुधवार तक शीतलहर से लेकर भीषण शीतलहर का प्रकोप जारी रहने की संभावना है.

भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, दिल्ली-एनसीआर में आज और कल पारा 3 डिग्री सेल्सियस पर बना रहेगा. दिल्ली में सोमवार सुबह अधिकतर जगहों पर न्यूनतम तापमान 4.7°C दर्ज किया गया.

ठंडी हवाओं ने बढ़ाई ठिठुरन

मध्य प्रदेश में कडाके की ठंड का दौर जारी है. मौसम विभाग ने अगले कुछ दिनों तक एमपी में घना कोहरा,शीतलहर और कई जिलों में पाला पड़ने का अलर्ट जारी किया है. सोमवार सुबह भी कोहरा पड़ा हुआ है.

पिछले 24 घंटे में 3.5 डिग्री तापमान राजगढ़ में दर्ज किया गया. वहीं, बिहार में तेज हवा के कारण ठंड बढ़ गई है. अचानक से ठंड बढ़ने के कारण फारबिसगंज अनुमंडलीय अस्पताल में लगातार कोल्ड स्ट्रोक के मरीज पहुंचने लगे हैं जिनमे से ज्यादातर ब्लड प्रेशर और डायबिटीज के मरीज हैं.

कई राज्यों में तापमान में गिरावट

मौसम विभाग का कहना है कि पंजाब, राजस्थान, हरियाणा, दिल्ली और पश्चिमी मध्य प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में रविवार से सर्दी बहुत ज्यादा बढ़ गई है. मौसम विभाग के अनुसार, राजस्थान के उत्तर-पश्चिम और दक्षिण-पूर्व के ज्यादातर हिस्सों में न्यूनतम तापमान एक से तीन डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया.

वहीं पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और दक्षिण-पश्चिम उत्तर प्रदेश में न्यूनतम तापतान तीन से पांच डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज रहा. भारत मौसम विज्ञान विभाग की वेबसाइट पर उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार, थार के रेगिस्तान के पास स्थित चुरू जिले में इस मौसम का सबसे कम तापमान शून्य से 2.5 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया.

16 से 18 जनवरी के बीच बर्फ जमने की आशंका

मौसम विभाग के अनुसार, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, पूर्वी राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तरी-पश्चिमी मध्य प्रदेश में न्यूनतम तापमान में चार से सात डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट दर्ज की गई है. उत्तर-पश्चिम के अन्य हिस्सों में खास बदलाव दर्ज नहीं किया गया.

मौसम विभाग के अनुसार, 17-18 जनवरी को भारत के उत्तरी-पश्चिमी और मध्य इलाके में न्यूनतम तापमान में करीब दो डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज किए जाने की संभावना है. वहीं राजस्थान, पंजाब, हरियाणा और दिल्ली में इस दौरान शीतलहर चलने की संभावना है.

मौसम विभाग के अनुसार, ‘‘हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान के कुछ इलाकों में 16 से 18 जनवरी के बीच बर्फ जमने की आशंका है.’’ कश्मीर में ज्यादातर जगहों पर रात का तापमान शून्य से नीचे दर्ज किया गया. श्रीनगर में शनिवार की रात को न्यूनतम तापमान शून्य से 0.6 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया.

झारखड में कड़ाके की ठंड ने दस्तक दी

झारखंड में रविवार रात से एक बार फिर कड़ाके की ठंड ने दस्तक दे दी है. मौसम विभाग के एक अधिकारी के मुताबिक उत्तर से आने वाली उत्तर-पश्चिमी हवाओं के कारण न्यूनतम तापमान में तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है.

मौसम विभाग के मुताबिक, अगले 24 घंटों में रांची में रात के तापमान में दो डिग्री सेल्सियस की गिरावट आने की संभावना है.

फतेहपुर में पारा शून्य से 4.7 डिग्री नीचे

राजस्थान में भी शीतलहर का प्रकोप जारी है और राज्य में फतेहपुर व चूरू सबसे ठंडा स्थान रहे, जहां रविवार को तापमान शून्य से क्रमश: 4.7 डिग्री और 2.7 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया.

मौसम विज्ञान विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि पश्चिम राजस्थान के कई स्थानों पर भीषण शीतलहर का प्रकोप है, जिसकी वजह से अजमेर, कोटा और उदयपुर संभाग में उल्लेखनीय रूप से न्यूनतम तापमान में गिरावट आई है.

मौसम विभाग के मुताबिक, चित्तौड़गढ़ में न्यूनतम तापमान शून्य से 1.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. वहीं सीकर में तापमान 0.5 डिग्री सेल्यिस, भीलवाड़ा में 0.6 डिग्री, बीकानेर में 1.2 डिग्री, पिलानी में 1.6 डिग्री, बारां में 1.7 डिग्री और संगारिया में 1.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!