इस भैंस की कीमत है 24 करोड़ रुपए, रोज पीता है 1 किलो घी, 25 किलो दूध

गाय को भारत में माता की संज्ञा प्राप्त है। यूं तो सम्पूर्ण भारत में हर जानवर का घार्मिक रूप से विशेष महत्व है। भारत में पशुपालन व्यापार के साथ-साथ सेवा भाव से भी पाला जाता है।

यहां कई लोग जानवर के व्यापार माध्यम से सफलता की प्रेरणादायक रेखा खींची है। उन्हीं में एक हैं जोधपुर के अरविंद जांगिड़ जो रात 24 करोड़ कीमत के भैंसे  भीम को लेकर पुष्कर मेले में गए थे। मेले में भैंसे को मोतीसर रोड पर प्रदर्शन के लिए रखा गया है। इस भैंस को देखने के लिए लोगों की भारी भीड़ जमा हुई थी।

अफगानिस्तान से जोधपुर आए एक शेख परिवार ने इस भैंसे की कीमत बोली के रूप में 24 करोड़ रुपए लगाई थी, लेकिन अरविंद भीम को बेचना नहीं चाहते।

उन्होंने कहा कि मेले में भैंसे को बेचने के लिए नहीं लाए हैं, बल्कि मुर्रा नस्ल के संरक्षण के उद्देश्य से केवल प्रदर्शन के लिए लेकर आए हैं। इसके पहले भी वह साल 2018 और 2019 में अरविंद भीम को पुष्कर मेले में प्रदर्शन के लिए लेकर आए थे।

पशु प्रतियोगिता में भाग लेने हेतु मिल चुका है पुरस्कार

अरविंद भीम का प्रदर्शन ना केवल पुष्कर में बल्कि इबालोतरा, नागौर, देहरादून समेत कई मेलों में इसका प्रदर्शन कर चुके हैं। अरविंद कई मेलों में आयोजित पशु प्रतियोगिता में भाग लेकर पुरस्कार भी जीते हैं। वह इच्छुक पशुपालकों को भीम का सीमन उपलब्ध कराते हैं। अरविंद के अनुसार मुर्रा नस्ल के इस भैंसे के सीमन की देश में बड़ी डिमांड है।

प्रतिमाह डेढ़ से दो लाख रुपए का होता है खर्चा

भीम भैंस 14 फीट लंबा और 6 फीट ऊंचा है तथा इसका वजन करीब 1500 किलो है। अरविंद बताते हैं कि इस भैस के रख-रखाव और खुराक पर प्रतिमाह डेढ़ से दो लाख रुपए का खर्चा होता है जिसमें उसे एक किलो घी, आधा किलो मक्खन, 200 ग्राम शहद, 25 लीटर दूध और एक किलो काजू-बादाम खिलाया जाता है।

भीम की वजन बढ़कर 1500 किलो हो गया है

आपको बता दें कि भीम का वजन दो साल में 200 किलो और कीमत तीन करोड़ बढ़ गई है। पुष्कर मेले में जब भीम को दूसरी बार 2019 में लाया गया था, तब इसका वजन 1300 किलो था और इस बार यह बढ़कर 1500 किलो तक पहुंच गया है। इसी प्रकार पिछली बार इसकी बोली 21 करोड़ तक लगाई गई थी और इस बार 24 करोड़ रुपए का ऑफर मिल चुका है, मगर मालिक इस कीमत में भी बेचने के लिए तैयार नहीं है।

एक बार में 20-30 लीटर तक देती है दूध

मुर्रा नस्ल के भैंसे की दुनियाभर में काफी डिमांड रहती है, पैदा होते हीं उनका वजन 40 से 50 किलो रहता है। यह एक बार में 20 से 30 लीटर तक दूध देती है। इसके .25 ml सीमन की कीमत करीब 500 रुपए है, जिसे एक पेन की रीफिल जैसी स्ट्रॉ में भरा जाता है। भीम भैंसे के मालिक हर साल 10 हजार स्ट्रॉ बेच देते हैं क्योंकि इसमें एक बार में 4-5 ML सीमन इकट्ठा होता है।

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok Mantra अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!