दुकानदार पिता ने मेहनत से पढ़ाया, बेटे ने Amazon का ऑफर ठुकरा पाया Microsoft में 50 लाख का पैकेज

दुकानदार पिता ने मेहनत से पढ़ाया, बेटे ने Amazon का ऑफर ठुकरा पाया Microsoft में 50 लाख का पैकेज

जब भारत के छात्र Microsoft, Amazon, Apple, Google, और कई अन्य प्रतिष्ठित कंपनियों में बड़े पैकेज वाली नौकरी पा लेते हैं, तो ये ख़बर देश भर के लोगों के लिए गौरव की बात बन जाती है.

ऐसी ही एक कहानी हरियाणा के एक लड़के की है. शायद ये कहना गलत नहीं होगा कि ये कहानी सिर्फ उस लड़के की मेहनत की नहीं, बल्कि उसके माता-पिता के प्रयासों की भी है.

माइक्रोसॉफ्ट में पाई 50 लाख की नौकरी

हम बात कर रहे हैं हरियाणा के अंबाला छावनी के मधुर राखेजा नाम के बीटेक के छात्र की, जिन्हें माइक्रोसॉफ्ट जैसी कंपनी में 50 लाख रुपये का पैकेज मिला है. उन्होंने इस ऑफर को को स्वीकार कर अपने माता-पिता की मेहनत को सफल कर दिया.

इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट के अनुसार, Amazon, Cognizant, और Optum जैसी कंपनियों के लुभावने ऑफर ठुकराने वाले मधुर राखेजा ने यूपीईएस स्कूल ऑफ कंप्यूटर साइंस से Oil and Gas Informatics की विशेषता के साथ कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग में बीटेक की पढ़ाई पूरी की.

बनना चाहते थे टेक्नोलॉजी का हिस्सा

एक साक्षात्कार में राखेजा ने बताया कि, “मुझे हमेशा से टेक्नोलॉजी में दिलचस्पी रही है और मैं मानता हूं कि इसमें दुनिया भर में लाखों लोगों के जीवन को बदलने और प्रभावित करने की क्षमता है. मैं हमेशा से इस टेक्नोलॉजी का हिस्सा बनना चाहता था.”

उन्होंने बताया कि किसी ने उन्हें सुझाव दिया था कि वे अपस्ट्रीम पेट्रोलियम इंजीनियरिंग के लिए जाएं, लेकिन वे इसमें करियर को लेकर निश्चित नहीं थे. हालांकि, उन्हें यकीन था कि वे कंप्यूटर विज्ञान का अध्ययन करना चाहते हैं.

उन्होंने आगे कहा कि, “मेरे दिमाग में उन कंपनियों की एक सूची थी जहां मैं चुना जाना चाहता था. माइक्रोसॉफ्ट उस सूची में था. मैंने अन्य लोगों के साक्षात्कार के अनुभवों के बारे में पढ़कर और आवश्यक कौशल सीखकर चयन प्रक्रिया के लिए तैयारी की. मेरी नियुक्ति Campus Placement द्वारा हुई.”

अन्य बड़ी कंपनियों से भी मिले थे ऑफर

मधुर ने campus placement के दौरान एमेजॉन, डीई शॉ, ऑप्टम, कॉग्निजेंट, इंफोसिस जैसी कंपनियों के लिए आवेदन किया था. उन्होंने बताया कि’इनमें से उन्हें माइक्रोसॉफ्ट, ऑप्टम और कॉग्निजेंट से फुल-टाइम ऑफर और कैंपस प्लेसमेंट के हिस्से के रूप में ऐमजॉन से इंटर्नशिप ऑफर मिला.

इंटर्नशिप में मेरे प्रदर्शन के आधार पर मुझे ऐमजॉन में एसडीई की भूमिका के लिए फुल-टाइम ऑफर भी मिला है. उन्होंने आगे बताया कि “माइक्रोरोस्ट एक बढ़िया सैलरी पैकेज वेतन और अच्छे स्टॉक विकल्प देता है. इसके साथ ही माइक्रोसॉफ्ट में काम के घंटे फ्लेक्सिबल होते हैं. वहां, वर्क कल्चर काफी अच्छा है.

जो काम वहां के इंजीनियर्स करते हैं, वह काफी प्रभावी होता है. कंपनी अपने कर्मचारियों का काफी ध्यान रखती है.” मधुर जल्द ही बेंगलुरू में माइक्रोसॉफ्ट के कार्यालय से जुड़ेंगे.

मधुर का सपना है कि वह अनुभवी लोगों के साथ फुल टाइम काम करते हुए एक बेहतर सॉफ्टवेयर डेवलपर बनें. बता दें कि माइक्रोसॉफ्ट में 50 लाख पैकेज वाली नौकरी पाने वाले मधुर के पिता एक सामान्य दुकानदार हैं. वहीं उनकी मां एक गृहणी हैं.

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok mantra से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है.]

Dhara Patel

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!