बिना हाथ के फर्राटे से कार चलाता दिखा शख्स, आनंद महिंद्रा हुए इम्प्रेस और दे दिया ये बड़ा ऑफर!

क्या बिना हाथों के कार चलाई जा सकती है? जाहिर है आप कहेंगे कि बिना हाथों के कार चलाना तो संभव नहीं है। लेकिन ऐसा हो रहा है। बिजनेस टाइकून आनंद महिंद्रा के वायरल ट्वीट को देखकर तो ऐसा ही लग रहा है।

जिसके वीडियो में एक सख्स बिना हाथों के कार चला रहा है। ऐसे में महिंद्रा की शेयर की गई इंस्पायरिंग वीडियो ट्विटर पर काफी ट्रेंड कर रही है। तो आइये जानते है इस वायरल वीडियो की पूरी कहानी क्या है?

हाथ का इस्तेमाल किए बिना सख्स कैसे चलाता है गाड़ी?

जाने-माने उद्योगपति आनंद महिंद्रा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर काफी एक्टिव रहते हैं। वो अपने ट्विटर अकाउंट से कई मोटिवेशनल और जुगाड़ टेक्नॉलॉजी वाली कहानियां और वीडियो शेयर करते रहते हैं।

सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि जब उन्हें लगता है कि इस शख्स की मदद करने से वो और बेहतर कर सकता है या फिर उसकी मुश्किल हल हो सकती है तो भरपूर मदद भी करते हैं।

अब आनंद महिंद्रा ने अपने ट्विटर अकाउंट से एक वीडियो शेयर किया है जिसमें एक शख्स बिना हाथों के कार चला रहा है। दरअसल यह शख्स दिव्यांग है और इसके दोनों हाथ नहीं है।

विक्रम अग्निहोत्री नाम के इस शख्स ने करंट से झुलस जाने पर अपने दोनों हाथ गंवा दिये थे। लेकिन विक्रम ने हार नहीं मानी और वह अब अपने पैरों से गाड़ी चलाकर जीवन यापन करता है।

सरकार ने दे रखा है लाइसेंस!

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, विक्रम जब 7 साल के थे, तब वे करंट से झुलस गए थे। इस दुर्घटना से उनके दोनों हाथ खराब हो गए थे। इसके बाद डॉक्टर्स को विक्रम के हाथ काटने पड़े।

लेकिन ऐसे हादसे के बाद भी उन्होंने अपनी पूरी लगन से पढ़ाई पूरी की। विक्रम बड़े जिंदादिल हैं। उन्होंने हर वह काम पैरों से करना शुरू कर दिया, जो हाथों से किया जाता था।

जब उन्हें कार चलाने की जरूरत महसूस हुई तो उन्होंने सरकारी लाइसेंस के लिए अप्लाई किया। लेकिन सरकारी नियमो के तहत पहली वार उनके आवेदन को रिजेक्ट कर दिया गया।

लेकिन विक्रम ने अपनी कोसिस जारी रखी, जिसका नतीजा ये हुआ कि सरकार को साल 2016 में सरकार को मोटर वाहन कानून  में बदलाव करना पड़ा और दिव्यांगों को भी लाइसेंस देने का प्रोविजन जोड़ा गया।

और अब विक्रम देश के पहले आर्मलेस ड्राइविंग लाइसेंस पाने बाले शख्स है। आपको बता दे, विक्रम के पास ऑटोमेटिक गियर शिफ्ट वाली कार है।

वे अपने दाएं पैर से कार की स्टीयरिंग पकड़ते हैं और बायां पैर एक्सेलरेटर पर रखते हैं। खास बात यह है कि विक्रम ने खुद से ही कार चलाना सीखा है। वे बताते हैं कि उन्होंने यूट्यूब पर वीडियो देखकर कार चलाना सीखा।

विक्रम से अपनी गाड़ियां चलवाना चाहते हैं महिंद्रा!

जाने-माने उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने शनिवार सुबह विक्रम का एक वीडयो शेयर किया है। जिसमे बह बिना किसी सहायता के रोड पर कार को सरपट दौड़ाते हुए दिख रहे है, विक्रम के इसी जूनून को आनंद महिंद्रा ने ट्विटर पर सराहा और लिखा:- ‘यह एक सम्मान और सौभाग्य की बात होगी कि यह आदमी हमारी कार चलाए।

विक्रम, मैं आपको नमन करता हूं। आप वही हैं, जिसे हम राइज स्टोरी कहते हैं। हमें कृतज्ञता के साथ जीवन को अपनाने की प्रेरणा देने के लिए धन्यवाद।’ अब आनंद महिंद्रा के इस ट्वीट को सोशल मीडिया पर काफी सराहा जा है।

यूजर्स महिंद्रा की तारीफ करते नहीं थक रहे है। वंही विक्रम ने महिंद्रा के ट्वीट का जवाब देते हुए उन्हें अपना आइकन बताया।

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok mantra से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है.]

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!