Traffic में लाइन से खड़े मिज़ोरम के लोगों ने आनंद महिन्द्रा का भी दिल जीता, ट्वीट कर की तारीफ़

हमारे देश के अगर किसी भी शहर के लोगों का रवैया समझना है तो इसके कई तरीके हैं और उनमें से एक है ट्रैफ़िक. राजधानी दिल्ली समेत कई शहरों में तो ट्रैफ़िक में खड़े होकर भी लोग हॉर्न बजाते दिख जाते हैं. ज़रा सी जगह मिलने पर ओवरटेक करने की होड़ लगी रहती है. जल्दी पहुंचने के चक्कर में लोग ट्रैफ़िक लाट्स तोड़कर चलने पर भी बाज़ नहीं आते. कई बार बाइक सवार डिवाइडर क्रॉस करके खाली रोड पर जाते हुए भी नज़र आए हैं.

रोड रेज की असंख्य ख़बरें, वीडियोज़ भी हमने देखी हैं. इस सबके बीच देश के मिज़ोरम से ट्रैफ़िक की एक ऐसी तस्वीर सामने आई जो सबका दिल जीत रही है. अपने ट्वीट्स से लोगों का ध्यान खिंचने वाले, सोशल मीडिया के ज़रिए लोगों की मदद करने वाले दिलेर उद्दोगपति, आनंद महिन्द्रा का ध्यान भी इस तस्वीर ने खीचा है.

आनंद महिन्द्रा ने संदीप अह्लावत नामक यूज़र का ट्वीट, रिट्वीट करते हुए लिखा, ‘मैंने ऐसा अनुशासन मिज़ोरम में देखा है. वहां ना कोई फैंसी कार है, ना कोई इगो, ना रोड रेज, ना लगातार हॉर्न की आवाज़ और ना ही तू जानता नहीं मेरा बाप कौन है… ना ही कोई जल्दबाज़ी में रहता है…सिर्फ़ चारों तरफ़ शांति है.’

अपने एक अन्य ट्टीट में आनंद महिन्द्रा ने लिखा, ‘ज़बरदस्त तस्वीर; एक भी गाड़ी रोड मार्कर के दूसरी तरफ़ नहीं है. प्रेरणादायक: हम ही अपनी ज़िन्दगी सुधार सकते हैं. नियमों के अनुसार चलकर. मिज़ोरम के लिए तालियां.’

खबर लिखे जाने तक आनंद महिन्द्रा के इस ट्वीट पर 76 हज़ार से ज़्यादा लाइक्स आ चुके हैं. इस ट्वीट पर यूज़र्स ने मिज़ोरम और मेघालय में कड़े ट्रैफ़िक क़ानूनों के बारे में भी जानकारी दी. यूज़र्स ने बताया कि विधायकों को भी छूट नहीं मिलती. कई यूज़र्स का कहना था कि पूरे देश को इस तस्वीर से सीख लेनी चाहिए.

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok Mantra अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!