पिता कैंसर से लड़ रहे थे पर अभिनव संघर्ष करते रहे, बिहारी लाल को अमेरिका में 2 करोड़ का स्कॉलरशिप मिला

पिता कैंसर से लड़ रहे थे पर अभिनव संघर्ष करते रहे, बिहारी लाल को अमेरिका में 2 करोड़ का स्कॉलरशिप मिला

बिहार के रहने वाले 18 वर्षीय अभिनव खन्ना जिन्होंने अपने शिक्षा और मेहनत के दम पर अमेरिका के केस वेस्टर्न से 2 करोड़ का स्कॉलरशिप प्राप्त किया है। परिवार की असाधारण परिस्थितियों से बिना घबराएं अभिनव ने यह उपलब्धि हासिल की है।

बिहार के अभिनव खन्ना

हाई स्कूल विद्यार्थी अभिनव खन्ना बिहार की राजधानी पटना  के राजेंद्र नगर निवासी हैं। इन्हें अमेरिका  के क्लीवलैंड  स्थित प्रतिष्ठित केस वेस्टर्न रिज़र्व यूनिवर्सिटी  से 2 करोड़ रुपये की राशि स्कॉलरशिप में मिली है। इन्हें यह उपलब्धि इंटरनेशनल ऑर्गनाइजेशन डेक्सटेरिटी ग्लोबल की सहायता से प्राप्त हुआ है।

अभिनव के आवेदन के वक़्त हुआ पिता जी को कैंसर

कभी-कभी ज़िंदगी में ऐसे वक़्त आतें हैं जो बहुत कुछ सिखातें हैं। जब अभिनव कॉलेजों में आवेदन कर रहे थें उस दौरान इनके पिता को कैंसर हो गया। इनके पिता का नाम डोलन खन्ना है जो छोटे से व्यपार के मालिक हैं, और मां का नाम अंजू है जो हाउसवाइफ हैं। ऐसे हालात में भी बिना हिम्मत हारे अभिनव ने कॉलेजों में आवेदन किया था।

क्या हैं केस वेस्टर्न रिजर्व यूनिवर्सिटी

केस वेस्टर्न रिजर्व यूनिवर्सिटी की स्थापना 1826 में हुई थी। यह ओहिओ के क्लीवलैंड में है। यह अमेरिका का सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालय है। यह यूनिवर्सिटी लगभग 17 नोबेल पुरस्कार विजेता बनाने के लिए मशहूर है।

स्कॉलरशिप की जानकारी

अभिनव को इस यूनिवर्सिटी के रॉबर्ट मैककुल्फ ने अंडरग्रेजुएट एडमिशन के लिए लेटर भेजा। इस पत्र में लिखा था ” बधाई हो! केस वेस्टर्न रिजर्व यूनिवर्सिटी बोर्ड ऑफ़ ट्रस्टीज और प्राइममिनिस्टर बारबरा आर स्नाइडर की तरफ से, यह सुनिश्चित करते हुए सम्मान महसूस करता है कि आप यहां अपना नामांकन कराएं। इस विश्वविद्यालय में आपका अभिनंदन है।” अभिनव को अपनी पढ़ाई के लिए 2 करोड़ रुपये स्कॉलरशिप मिली है जिसमें इनकी शिक्षा ट्यूशन फी और अन्य खर्च शामिल हैं।

अभिनव भी बहुत खुश हैं

अभिनव अपने इस सफलता से बेहद खुश हैं कि अब वह अमेरिका के सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालय में पढ़ाई करेंगें। साथ ही अभिनव डेक्सटेरिटी ग्लोबल एवं शरद सागर सर के दिखाए गए मार्ग के लिए उन्हें धन्यवाद करते हैं। अभिनव मानते हैं कि उनके बिना कुछ भी सम्भव नहीं था।

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Lok Mantra अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Dhara Patel

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!